कौन है संत विजयनाथ योगी? जो खतरनाक गर्मी और चारों ओर आग के बीच कर रहे है 41 दिनों तक तप
कौन है संत विजयनाथ योगी? जो खतरनाक गर्मी और चारों ओर आग के बीच कर रहे है 41 दिनों तक तप
Share:

दौसा: इस समय सूरज आसमान में पूरे शबाब पर पहुंचकर आग बरसा रहा है वही इस बीच राजस्थान के दौसा में एक संत ने 41 दिन की अग्नि तपस्या आरम्भ की है। झुलसा देने वाली गर्मी के बीच वह 25 जून तक दोपहर 11 से 3 बजे तक अग्नि तपस्या करेंगे। अग्नि तपस्या नाथ संप्रदाय के प्राचीन सिद्धपीठ आश्रम में की जा रही है। इस बीच बड़े आंकड़े में भक्त दर्शन के लिए आश्रम आ रहे हैं।

अग्नि तपस्या को जन कल्याण के लिए किया जा रहा है। इस के चलते संत मंदिर परिसर में खुले आसामन के नीचे अपने चारों तरफ अग्नि के 9 धूणों के बीच बैठकर लोगों की भलाई के लिए 41 दिन तक प्रार्थना करेंगे। चिलचिलाती गर्मी में संत की इस तपस्या से लोग हैरत में हैं। संत की इस तपस्या के दर्शन एवं पूजा पाठ के लिए लोगों की भीड़ मंदिर में उमड़ रही है। अग्नि तपस्या का आयोजन राजस्थान के दौसा जिले के हिंगवा गांव स्थित नाथ संप्रदाय का प्राचीन सिद्धपीठ आश्रम में चल रहा है। यह आयोजन 25 जून तक चलेगा। 41 दिन की अग्नि तपस्या के लिए संत विजयनाथ योगी अग्नि के 9 धूणों के बीच बैठे हुए हैं। यह हिंगवा नाथपीठ महंत बाबा लक्ष्मण नाथ के शिष्य हैं, जो नाथ संप्रदाय के 41वें महंत हैं। महंत बाबा लक्ष्मण नाथ 40 वर्षों से सिद्धपीठ आश्रम का संचालन कर रहे हैं। 

महंत लक्ष्मण नाथ ने कहा कि अग्नि तपस्या का आयोजन बीते 20 वर्षों से होता आ रहा है। यह अग्नि तपस्या हर साल सिद्धपीठ आश्रम में विश्व जनकल्याण के लिए की जाती है। इस तपती दोपहरी में अग्नि तपस्या के दर्शन करने के लिए बड़े आंकड़े में श्रद्धालु आश्रम में आते हैं। हिंगवा गांव में स्थित नाथ संप्रदाय का प्राचीन सिद्धपीठ आश्रम में नाथ समाज की प्रमुख गद्दी है। यह स्थान मेहंदीपुर बालाजी धाम से लगभग 20 किलोमीटर की दूरी पर है। इस आश्रम में कई संत महात्मा रहे हैं जिनके चमत्कार बहुत लोकप्रिय हुए हैं। इस स्थान को नाथ संप्रदाय की राजस्थान की सबसे बड़ी गद्दी के रूप में भी जाना जाता है। गुरु पूर्णिमा पर यहां मेले का आयोजन किया जाता है। साथ ही आश्रम पर 7 दिन श्रीमद्भागवत कथा व भंडारा का आयोजन होता है। देशभर से बड़े आंकड़े में श्रद्धालु हिंगवा आश्रम में आकर महंत का आशीर्वाद लेते हैं।

प्रेमिका संग ऐश वाली लाइफ जीने के लिए शख्स ने रची ऐसी खौफनाक साजिश, पुलिस ने किया गिरफ्तार

तो ऐसे होती है अवार्ड वापसी ? पद्मश्री से सम्मानित आयुर्वेदिक चिकित्सक हेमचंद मांझी को माओवादियों की धमकी

'ताज होटल और एयरपोर्ट पर रखा है बम', धमकी भरा कॉल आते ही पुलिस महकमे में मचा हड़कंप

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -