'जब अपने बीमार बच्चे को लेकर 'श्री राम' के पास आ गई थी महिला', जानिए पूरा किस्सा

टेलीविज़न के मशहूर धार्मिक सीरियल रामायण में राम का किरदार निभाने वाले अभिनेता अरुण गोविल को आज घर घर में प्रभु श्री राम के तौर पर जाना जाता है। अरुण गोविल 17 वर्ष की आयु में बिजनेस के सिलसिले में मुंबई आ गए लेकिन अचानक उनके मन में अभिनय का जोश आ गया तथा वे अभिनेता बन गए। 

वही राम का किरदार निभाने के पश्चात् अरुण गोविल की जिंदगी बदल गई। लोग सार्वजनिक जगहों पर अरुण को देखते तो उनके पांव छूने लगते तथा आशीर्वाद मांगते। लोग उनको उनके किरदार से अलग नहीं देख पाते थे। अपनी पुरानी यादों को याद करते हुए अरुण ने बताया, "मुझे याद है एक दिन मैं सेट पर टी-शर्ट पहन कर बैठा हुआ था। एक महिला आई तथा सेट पर काम करने वाले लोगों से पूछने लगी श्री राम कहां है। वो बोल रही कि उसे मुझसे मिलना है" उसके गोद में एक बच्चा था। 

आगे उन्होंने बताया- सेट पर काम करने वाले लोगों ने उसे मेरे पास भेज दिया। "पहले तो वो मुझे पहचान नहीं पाई फिर उसने मुझे कुछ वक़्त तक देखा तथा रोते हुए अपना बच्चा मेरे कदमों में रख दिया। मैं डर गया। मैंने बोला 'आप ये क्या कर रही हैं। छोड़िये मेरे पैरों को।' उसने रोते हुए बोला 'मेरा बेटा बीमार है। ये मर जाएगा आप इसे बचा लीजिये।' मैंने उन्हें हाथ जोड़कर समझाया कि 'ये मेरे हाथ में नहीं है, मैं कुछ नहीं कर सकता। आप इसे अस्पताल ले जाइये।' मैंने उन महिला को कुछ रूपये दिए। मैंने भगवान से उनके बेटे को स्वस्थ करने की प्रार्थना की तथा फिर समझाया और अस्पताल जाने को बोला। वो उस वक़्त वहां से चली गई मगर तीन दिन पश्चात् वो फिर आई। इस बार भी उसका बेटा उसके साथ था। उस महिला को देख मुझे विश्वास हो गया कि अगर हम भगवान पर विश्वास रखें तथा प्रार्थना करें तो वो अवश्य सुनता है।"

सैफ अली खान को देख लोगों को याद आए अरविंद त्रिवेदी, 300 लोगों को मात देकर बने थे 'रावण'

अब्दू का मजाक उड़ाना अर्चना को पड़ा महंगा, घरवालों के साथ भड़का पूरा देश

सैफ अली खान के लुक पर आया 'रामायण की सीता' का बयान, जानिए क्या बोली?

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -