कानून मंत्री रविशंकर ने व्हाट्सएप्प CEO डेनियल से की मुलाकात, रखी 3 महत्वपूर्ण शर्तें

Aug 21 2018 02:06 PM
कानून मंत्री रविशंकर ने व्हाट्सएप्प CEO डेनियल से की मुलाकात, रखी 3 महत्वपूर्ण शर्तें

नई दिल्ली: कानून और आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने व्हाट्सएप के सीईओ क्रिस डेनियल से मुलाकात की, उन्होंने सोशल मीडिया द्वारा जनित ज्वलंत मुद्दों जैसे मॉब लिंचिंग, रिवेंज पोर्न आदि पर चर्चा की. साथ ही रविशंकर ने डेनियल से आग्रह किया कि भारत में उनकी कंपनी का शिकायत अधिकारी होना चाहिए. 

लालू के बिगड़ते स्वास्थ्य से परेशान हुए तेजस्वी

रविशंकर ने कहा कि हमने कुछ ऐसे विनाशकारी विकास कर लिए हैं, जो भीड़ को लिंचिंग, बदला लेने वाले अपराध, फेक न्यूज़ से उपजने वाले अपराध की और धकेल रहे हैं. साथ ही उन्होंने दुनिया के सबसे पसंदीदा सोशल मेसेजिंग ऐप्प से रविशंकर ने उन समस्याओं के समाधान निकालने की गुजारिश की, जो भारतीय कानून के अंतर्गत अपराध की श्रेणी में आते हैं.

रविशंकर की तीन शर्तें 

1- व्हाट्सएप में भारत में शिकायत अधिकारी होना चाहिए. 
2- व्हाट्सएप अधिकारियों द्वारा भारतीय कानूनों का उचित अनुपालन होना चाहिए, आरएस प्रसाद ने कहा कि भारत ऐसे किसी परिदृश्य की        सराहना नहीं करेगा, जहां किसी भी समस्या के लिए अमेरिका से जवाब तलब करना पड़े. 
3 -व्हाट्सएप भारत के डिजिटल स्टोरेज का एक महत्वपूर्ण घटक बन गया है और भारत में स्थित एक उचित कॉर्पोरेट इकाई होना चाहिए.

महान लेखिका इस्मत चुगताई को याद कर गूगल ने समर्पित किया अपना डूडल

व्हाट्सएप सीईओ क्रिस डेनियल से मिलने के बाद केंद्रीय आईटी मंत्री आरएस प्रसाद ने कहा कि उनकी एक बहुत ही महत्वपूर्ण बैठक थी . उन्होंने कहा कि भारत ने असाधारण तकनीकी जागरूकता के लिए व्हाट्सएप की सराहना की हैं. रविशंकर ने व्हाट्सएप्प द्वारा भारत की शिक्षा में, स्वस्थ्य देखभाल में, केरल बाढ़ में योगदान देने पर भी वाट्सएप्प की सराहना की हैं.  

खबरें और भी:-​

केरल बाढ़: अमेरिका के एक एनजीओ ने पीड़ितों के लिए एकत्रित किए 10 हज़ार डॉलर

बाज़ार में आई रौनक, सेंसेक्स रिकॉर्ड 38154 के स्तर पर

विष्णु दिगम्बर पलुस्कर : शास्त्रीय संगीत को दुनियाभर में मशहूर करने वाले कलाकार