अगले जनम मोहे ऐसा मकान मालिक ना दीजो

दुनिया में कई लोग है जो किराए के घर में रहते है या फिर हॉस्टल में रहते है ऐसे में उन लोगों को अपने मालिक की सभी बातों का पालन करना ही पड़ता है क्योंकि अगर वो पालन नहीं करेंगे तो उन्हें घर मिलना मुश्किल हो जाएगा. ऐसे में अपने घर को छोड़कर किसी और के घर में रहना और ऊपर से उसकी बातें सुनना अपने आप में ही एक बहुत बड़ा चेलेंज होता है और उसे पूरा करने के लिए जो हिम्मत चाहिए होती है उसके लिए काफी मेहनत करनी पड़ती है. ऐसे में कई मकान मालिक तो इतने ज्यादा खतरनाक होते है कि ऐसा मन होता है कि घर ही छोड़ दो, लेकिन मज़बूरी की वजह से ऐसा हो नहीं पाता. जब कोई व्यक्ति किराए से घर लेता है तो उसे कई तरह कि शर्तों को मानना पड़ता है जो बहुत ही अजीब-अजीब तरह की होती है. आइए आज हम आपको बताते है कि वो क्या कहते है मकान मालिक और उनके कहने का मतलब क्या होता है.

कहते है - तुम कभी भी आना कभी भी जाना कोई पाबंदी नहीं है.

कहने का मतलब - रात 10 बजे के बाद घर के दरवाजे बंद हो जाएंगे और सुबह ही खुलेंगे.

कहते है - यहाँ नॉनवेज नहीं बनता लेकिन तुम्हे खाना हो तो बना लेना.

कहने का मतलब - यहाँ नॉनवेज नहीं बनता मलतब नहीं बनता.

कहते है - किराया एक दो दिन बाद दे डोज तो भी चलेगा.

कहने का मतलब - किराया वक्त पर होना मतलब होना आगे पीछे हुआ तो घर खाली कर देना.

कहते है - तुम किसी को भी घर पर लाओ हमे मतलब नहीं है.

कहने का मतलब - किसी लड़की को या लड़के को घर पर लाए तो रूम खाली कर देना.

कहते है - पार्टीज नहीं करते ना..

कहने का मतलब - यहाँ पार्टी अलाउ नहीं है.

जानिए किसके लिए गूगल ने बनाया है पहला 360 डिग्री डूडल

अनोखी पहल : यहाँ गाँवों में जाती है गधा लाइब्रेरी

बिना किसी पिलर की सहायता से बना है यह विशाल बुद्ध मंदिर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -