जानिए क्या है निपाह वायरस? कैसे फैलता है ये और क्या है इसके लक्षण

May 23 2018 02:34 PM

इन दिनों तो देशभर के लोगों में एक वायरस का खौफ बना हुआ है और वो है निपाह वायरस. केरल में तो अब तक इस वायरस की वजह से 8 लोग अपनी जान गंवा चुके हैं. ऐसे में अब सवाल उठ रहा है कि आख़िरकार ये निपाह वायरस हैं क्या? ये कैसे फैल रहा है और इससे कैसे बचा जा सकता है? आइये जानते है इसके बारे में-

क्या है निपाह वायरस

विश्व वैश्विक संगठन यानी WHO के मुताबिक निपाह वायरल (NIV) जानवरों से इंसानो में फैलता है. इस वायरस की वजह से कई तरह की गंभीर बीमारिया भी हो सकती है. ये वायरस Fruit Bat यानी चमगादड़ की वजह से फैलता है. Fruit Bat वो चमगादड़ होते है जो फल खाते है.

कहां से आया ये वायरस

सबसे पहले मलेशिया में इस वायरस की पहचान हुई थी जो की यहाँ के निपाह इलाके में पाया गया था. उस समय ये बीमारी चमगादड़ से इंसानों और जानवरो के फैलती थी. जो भी लोग इस बीमारी की चपेट में आये है उनमे से ज्यादातर सूअर पालन केंद्र में ही काम करते थे. ये वायरस ऐसे फलों से इंसानों तक पहुँचता है जो कि चमगादड़ की चपेट में आते है.

निपाह वायरस के लक्षण क्‍या हैं

निपाह वायरस की चपेट में आने के बाद इसके लक्षण दिमागी बुखार जैसे होते है. सबसे पहले इस बीमारी की शुरुआत सांस लेने में दिक्‍कत, भयानक सिर दर्द और फिर बुखार से होती है.

कैसे फैलता है निपाह वायरस

संक्रमित चमगादड़ों, संक्रमित सुअर या संक्रमित व्‍यक्ति के संपर्क में आने से निपाह वायरस फैलता है.

निपाह वायरस का इलाज क्‍या है

ये वायरस देशभर में फ़ैल रहा है लेकिन अब तक इसके लिए कोई वैक्सीन नहीं बना है. अब तक इस वायरस का केवल एकमात्र ही इलाज बना है और वो ये है कि संक्रमित व्‍यक्ति को डॉक्‍टरों की कड़ी निगरानी में रखा जाता है.

क्‍या सावधानी बरतनी चाहिए?

निपाह वायरस से सबसे ज्यादा सावधानी बरतनी चाहिए. इसके लिए आप कभी भी चमगादड़ की पेशाब और उनकी लार के संपर्क में ना आए. खासतौर से आप पेड़ से गिरे हुए फल कभी ना खाए क्योकि वो फल पहले से ही चमगादड़ों की लार के संपर्क में आ चुके होते है. जहां ये वायरस फ़ैल रहा है वह जाने से बचे. 

निपाह वायरस का इलाज करते हुए जाबाज नर्स की मौत, लिखा भावुक खत

निफा वायरस ने केरल में ली आठ लोगों की जान

 

Live Election Result Click here here for more

General Election BJP INC
545 349 91
Orrissa BJD BJP+
147 104 25
Andhra Pradesh YSRCP TDP
175 141 31
Arunachal Pradesh BJP+NPP OTHER
60 19 5
Sikkim SDF SKM
32 5 5