श्राद्ध में जरूर बनाए यह पकवान

कहा जाता है कि पितृ पक्ष यानी की श्राद्ध के वक्त हर व्यक्ति अपने पूर्वजों को मोक्ष दिलाने के लिए तर्पण, अनुष्ठान, ब्राह्मण भोजन आदि अलग-अलग विधि-विधान से कर्म कर के पितृ को तृप्त किया करते हैं ऐसे में क्या आप इस बात से वाकिफ हैं कि इस दौरान ब्राह्मणों को खीर क्यों खिलाई जाती है..? अगर नहीं तो हम आपको बताते हैं.

दरअसल पूर्वजों के मोक्ष के लिए ब्राह्मणों को सादा और सात्विक भोजन करवाना चाहिए और मीठे में खीर-पूरी बनाया जाना अनिवार्य होता है. इस वजह से उन्हें खीर खिलाई जाती है. कहते हैं कि खीर-पूरी स्वाद से भरा और सात्विक भोजन है. कहते हैं कि पंडितों के अनुसार खीर सभी पकवानों में से उत्तम है. और खीर मीठी होती है और मीठे खाने के बाद ब्राह्मण संतुष्ट हो जाते हैं जिससे पूर्वज भी खुश हो जाते हैं.इसी के साथ ऐसा भी कहा जाता है कि पूर्वजों के साथ-साथ देवता भी खीर को बहुत पसंद करते हैं इसलिए देवताओं को भोग में खीर चढ़ाया जाता है.

वैसे खीर न केवल खाने में अच्छी मानी जाती है बल्कि इससे हवन, अनुष्ठान आदि भी करते हैं और यही नहीं खीर मीठे में के साथ कई चीजों का मिश्रण होता है इसलिए कई जगह मंदिरों में भगवान को खीर से स्नान भी करवाते हैं. बस यही वजह है कि श्राद्ध में खीर बनाना जरुरी है और आवश्यक भी.

पितृ पक्ष में राशि अनुसार करें मंत्र जाप, मिलेगा लाभ

घर की इस दिशा में दीपक जलाने से मिलती है पितृदोष से मुक्ति

इस गलती की वजह से प्रेत लोक में पहुंच जाते हैं हमारे पूर्वज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -