भारत-पाकिस्तान विभाजन के पहले, भारत को क्या कहा जाये, भारत या दक्षिण एशिया?

अमेरिका : इन दिनों अमेरिका के कैलिफ़ोर्निया में एक बहस छिड़ चुकी है. दरअसल कलिफोर्निा के स्कूलों का पाठ्यक्रम अपडेट किया जा रहा है, ऐसे में इतिहास के उस हिस्से को लेकर बहस छिड़ गयी है, जिस दौरान भारत-पाकिस्तान एक हुआ करते थे.  कैलिफोर्निया की इन्सट्रक्शनल क्वालिटी कमीशन इस असमंजस में पड़ गयी है की विभाजन के पहले को भारत को आखिर किस नाम से सम्बोधित किया जाए, भारत या दक्षिण एशिया?

संस्था किंडरगार्डन से 12वीं कक्षा तक की सोशल साइंस करिकुलम तैयार कर रहा है. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कैलिफ़ोर्निया की एजुकेशन कमेटी इतिहास लिखने के दौरान इस दुविधा में फास गयी है की दक्षिण एशिया की कहानी किस तरह लिखी जाए.

रिपोर्ट्स में कहा गया है की, "विवाद के केंद्र में है कि जिस क्षेत्र में आज के भारत और पाकिस्तान शामिल है, उसे किस नाम से लिखा जाना चाहिए- भारत या दक्षिण एशिया? जिससे यहां की सांस्कृतिक बहुलता को दर्शाया जा सके। क्योंकि भारत 1947 तक एक नेशन-स्टेट नहीं था। यह उस सवाल को भी छेड़ता है कि क्षेत्र की संस्कृति की किस तरह व्याख्या की जाए। इसमें महिलाओं की समाज में भूमिका और वर्ण व्यवस्था भी शामिल हैं।"

कुछ लोगो का कहना है की, "इस क्षेत्र को भारत की जगह किसी और नाम से बुलाना उनकी विरासत को मिटाने की तरह होगा," इसी के चलते  Dont Erase India नाम से सोशल मीडिया कैम्पेन भी शुरू किया गया है.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -