पश्चिम रेलवे : ट्रेन ​के इतने कोचों को बनाया जाएगा आइसोलेशन और क्वारंटीन वार्ड

भारत में कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच हर राज्य अलग अलग तरीके अपना रहा है. वही. अब भारतीय रेलवे ने कमर कस ली है. रेलमंत्री पीयूष गोयल के निर्देश के बाद पश्चिम रेलवे 410 ट्रेन के कोचों को आइसोलेशन और क्वारंटीन वार्ड में परिवर्तन करने जा रहा है.

इस कदम को लेकर पश्चिम रेलवे ने कहा कि वह मुंबई मंडल सहित अपने सभी छह डिवीजनों में कोरोना वायरस के संदिग्ध रोगियों के के लिए लगभग 410 ट्रेन डिब्बों को आइसोलेशन वार्ड मे परिवर्तित करेगा. रेलवे अधिकारियों ने बताया कि पश्चिमी रेलवे की भावनगर कार्यशाला में कोरोना वायरस के संदिग्ध रोगियों के लिए एक कोच को आइसोलेशन वार्ड में परिवर्तित किया गया है. पश्चिम रेलवे द्वारा मुंबई डिवीजन सहित अपने सभी 6 डिवीजनों में 410 कोचों को जल्द परिवर्तित किया जाएगा.

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि कोरोना के खिलाफ राष्ट्रव्यापी जंग में रेलवे बड़े पैमाने पर अपना योगदान दे रहा है. चीन से सीख लेते हुए उसने अपनी तैयारियों को सुपर रफ्तार देने का फैसला लिया है. जिस तरह चीन ने दस दिनों में  एक विशालकाय अस्पताल बनाकर खड़ा कर दिया था. उसी तरह रेलवे अगले कुछ दिनों में अपने कोचों को आइसोलेशन वार्ड में तब्दील करेगा. वही. कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए भारतीय रेलवे केंद्र सरकार के स्वास्थ्य सेवाओं को और मजबूत करने के लिए पूरी कोशिश कर रही है. कोच को आइसोलेशन में तब्दील करने के अलावा रेलवे अपने अस्पतालों में 6500 बिस्तरों को भी कोरोना पीड़ितों के इलाज के अनुरूप तैयार कर स्वास्थ्य विभाग को उपलब्ध कराएगा. इसके अलावा अतिरिक्त डॉक्टरों और पैरामेडिक्स की भर्ती भी की गई है.

कश्मीर में घातक रूप ले रहा कोरोना. हर 13 सैम्पल्स में से एक पॉजिटिव केस

कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्री का दावा. कहा- यूरोपीय देशों की तुलना में बेहतर है भारत की स्थिति

‘कोरोना महामारी भगाओ यज्ञ’ कर रहे हैं साक्षी महारज. कहा- इससे दूर होगी विपदा

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -