TMC के विधायकों के आगे बेबस गवर्नर धनखड़, अभिभाषण पढ़े बिना विधानसभा से लौटे

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव के बाद शुरू हुआ हंगामा विधानसभा के भीतर तक पहुंच गया है। बंगाल विधानसभा का बजट सत्र का पहला दिन विधायकों के हंगामे की भेंट चढ़ गया। स्थिति इतने बिगड़ गई कि गवर्नर जगदीप धनखड़ अपना अभिभाषण पढ़े बिना ही वापस चले गए। बवाल इतना बढ़ा कि 5 मिनट में ही विधानसभा की कार्यवाही स्थगित कर दी गई।

बता दें कि किसी भी विधानसभा में बजट सत्र वहां के गवर्नर के अभिभाषण से ही शुरू होता है। इसमें सरकार के काम-काज की जानकारी होती है। साथ ही सरकार की महत्वपूर्ण योजनाओं की जानकारी भी दी जाती है। चूंकि राज्य की सरकार गवर्नर के नाम से चलती है, इसलिए सरकार की ओर से तैयार किए गए अभिभाषण को गवर्नर सदन में पढ़कर सुनाते हैं। बंगाल में सीएम ममता बनर्जी के 43 मंत्रियों ने 10 मई को शपथ ग्रहण की थी।

इस दौरान भी गवर्नर धनखड़ ने बंगाल हिंसा को लेकर नाराजगी प्रकट की थी। उन्होंने कहा कि हिंसा खत्म करने को लेकर राज्य सरकार ने कोई जिम्मेदारी नहीं दिखाई। हालात बताते हैं कि सरकार भी यही चाहती थी। गवर्नर धनखड़ ने आगे कहा था कि बंगाल में संविधान खत्म हो गया है। रात में हिंसा की खबरें मिलती हैं और सुबह 'सब सही है' कहा जाता है।

नवजोत सिंह सिद्धू पर लटकी बिजली संकट की तलवार, जानिए क्या है मामला?

केरल के आईआईटी मद्रास के असिस्टेंट प्रोफेसर ने दिया इस्तीफ़ा

अब क्या करेंगी ममता बनर्जी ? 'बंगाल हिंसा' पर कोलकाता हाई कोर्ट ने दिया बड़ा आदेश

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -