पहले सिर पर बनाते थे इस तरह का निशान, फिर कर लेते थे अपहरण...

कोलकाता: पश्चिम बंगाल में बच्चा चोरी को लेकर के आए दिन अफवाहों का बाजार गर्म रहता है। जिसको लेकर के सरकार ने कई ठोस कदम भी उठाए है, किन्तु इसके बाद भी इस तरह की अफवाहे हैं कि थमने का नाम नहीं ले रही हैं। इन्हीं अफवाहों के बीच पूर्वी मिदनापुर जिले में कांथी थाना इलाके के दक्षिण सारदा गांव में एक अजीबो गरीब घटना प्रकाश में आई है। यहां छोटे बच्चों के सिर के पीछे के बाल काट के एक निशान बनाया जाता है,  ताकि इन बच्चों को अगवाह किया जा सके। 

पहले बनाया लड़के को हवस का शिकार और उसके बाद किया उससे भी बुरा काम

मदीनापुर क्षेत्र में कुछ लोग बाइक से आते हैं और स्कूल में पढ़ने वाले बच्चों को सुनसान स्थान पर ले जाते हैं। फिर एक थोड़ा सवाल जवाब करते हैं और उसके बाद अगर उन्हें लगता है कि यह बच्चा रईस घर से है तो उनके सिर के पीछे के बाल उस्तरे से काट कर एक छोटा सा निशान बना दिया जाता हैं। इन आरोपियों की कोई पहचान न कर सके, इसलिए वे लोग अपने मुंह पर काला कपड़ा बांधकर रखते हैं। 

मंदबुद्धि लड़की से महीनों रेप करता रहा युवक, ऐसे हुआ खुलासा..

अपनी इस हरकत को अंजाम देने के बाद आरोपी सभी बच्चों को धमकाते भी थे कि, अगर किसी को बताने का प्रयास किया, तो उठाकर ले जाएंगे और इसी खौफ से यह बच्चे घर में किसी को बताने में घबराते थे। किन्तु जब घरवालों को इसकी भनक लगी तो बच्चे से सख्ती से पूछताछ करने पर सच्चाई सामने आ गई। एक पांचवी कक्षा में पढ़ने वाले बच्चे ने जब पूरी घटना बताई तो घरवाले दंग रह गए, जिसके बाद उन्होंने पुलिस में शिकायत दर्ज कराइ। वही, दूसरी तरह पुलिस का कहना है की यह कुछ स्थानीय नीच लोगों की हरकत है।

खबरें और भी:-

बिहार में सड़क किनारे मिली महिला की लाश, मची सनसनी

Badla : तापसी पन्नू ने शेयर किये एक और नया पोस्टर

बच्चे को स्कूटी पर बैठाकर ले गए नाबालिक युवक और फिर किया ऐसा काम

Most Popular

- Sponsored Advert -