बांग्लादेश में हिन्दुओं का नरसंहार, सीएम ममता ने अपने अधिकारियों को किया अलर्ट

कोलकाता: पश्चिम बंगाल सरकार ने अपने जिला प्रशासन, विशेषकर बॉर्डर से सटे बांग्लादेश से लगे जिलों के प्रशासन से सोशल मीडिया के गलत इस्तेमाल और पड़ोसी मुल्क में दुर्गा पूजा के दौरान हालिया हमलों से संबंधित फर्जी खबरों के प्रसार के खिलाफ अलर्ट रहने और उनसे कानून-व्यवस्था बनाए रखने के लिए कदम उठाने के लिए कहा है। एक शीर्ष अधिकारी ने सोमवार को इस बारे में जानकारी दी है ।

अधिकारी ने बताया कि मूर्ति विसर्जन समारोहों और फातिहा-द्वाज-दहम के बीच बंगाल में कहीं भी अशांति फैलाने की किसी भी कोशिश से निपटने के लिए तमाम राज्य एजेंसियों को तैयार रहने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने आगे कहा कि, 'सरकार ने जिला प्रशासन, खासकर बांग्लादेश से सटे सीमावर्ती जिलों के प्रशासन से, पड़ोसी देश में हिंसा और तोड़फोड़ से संबंधित फर्जी खबरों के प्रसार के खिलाफ सावधानी बरतने के लिए कहा है। राज्य की सभी एजेंसियों से अलर्ट रहने और तनाव पैदा करने की हर साजिश नाकाम करने के लिए कहा गया है।'

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (खुफिया शाखा) की ओर से भी वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को इसी प्रकार की चेतावनी जारी की गई है। उन्होंने अपने संदेश में कहा कि 13 अक्टूबर 2021 से सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर बांग्लादेश में मुस्लिम कट्टरपंथियों द्वारा की गई दुर्गा पूजा पंडालों में तोड़-फोड़ की पोस्ट की बाढ़ आ गई है। IB के मुताबिक, इन मुद्दों के बाद भारत-बांग्लादेश सीमा से लगे जिले बेहद संवेदनशील हो गए हैं और भारत के हिंदू पुरातनपंथी संगठनों के नेता एक्टिव हो गए हैं।'

जापान सरकार ने वैक्सीनेशन प्रूफ के लिए शुरू की नई पहल

ऑस्ट्रेलियाई उप प्रधान मंत्री ने 2030 से अधिक जलवायु लक्ष्य के लिए समर्थन से किया इंकार

CWC की बैठक में कांग्रेस ने किया सरदार पटेल का अपमान, भड़क गई भाजपा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -