Weather Update: दिल्ली में आज छाए रहेंगे बादल, UP-पंजाब समेत इन राज्यों में होगी बारिश

नई दिल्ली: मौसम का मिजाज बदलने (Weather Update) और हवा चलने तथा बारिश होने की वजह से दिल्ली और उसके आसपास के इलाकों में चिलचिलाती गरमी से राहत है। वहीं दूसरी तरफ अब पारा फिर से चढ़ने लगा है। जी दरअसल दिल्ली में आज शनिवार को अधिकतम तापमान (Maximum Temperature) 41 तक रहने की संभावना है तो कई जगह बादल भी छाए रहेंगे। वहीं उत्तर प्रदेश, पंजाब और उत्तराखंड समेत कई राज्यों में हल्की से मध्यम बारिश का अनुमान जताया गया है। इसी के साथ दक्षिण पश्चिम मानसून (Southwest Monsoon) के अगले दो से तीन दिनों के दौरान केरल पहुंचने का अनुमान है। आपको बता दें कि वेदर डॉट कॉम की ओर से कहा गया है कि आज जम्मू-कश्मीर, लद्दाख और हिमाचल प्रदेश में छिटपुट बारिश या बर्फबारी और गरज के साथ छींटे पड़ने का अनुमान है।

जबकि उत्तराखंड में भी छिटपुट बारिश/बर्फबारी की भविष्यवाणी की गई है। वहीं पश्चिमी राजस्थान को गर्मी से आज कोई राहत नहीं मिलने वाली है। इस क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर धूल भरी आंधी और लू के चलने की संभावना है। जी दरअसल मौसम विभाग का कहना है कि पश्चिमी हिमालयी क्षेत्र में पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय है। इस कारण इस क्षेत्र में बारिश हो रही है। राजधानी दिल्ली में भी अगले दो दिनों तक बादल छाए रहेंगे और बारिश के भी आसार बन रहे हैं। इसी के साथ उत्तर प्रदेश, पंजाब, पूर्वी राजस्थान, पूर्वी मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, गोवा, छत्तीसगढ़, ओडिशा, झारखंड, आंध्र प्रदेश, तेलंगाना और आंतरिक कर्नाटक में छिटपुट बारिश की भविष्यवाणी की गई है। जबकि केरल और लक्षद्वीप में व्यापक बारिश और गरज के साथ छींटे पड़ने की संभावना है। आप सभी को बता दें कि मौसम विभाग ने अगले चार दिनों के दौरान जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश में हल्की या मध्यम बारिश का अनुमान जताया है।

जी दरअसल विभाग का कहना है कि अगले दो से तीन दिनों के दौरान उत्तराखंड, उत्तरी पंजाब, उत्तरी हरियाणा, उत्तर प्रदेश और पूर्वी राजस्थान में दूरदराज के क्षेत्रों में बारिश होने का अनुमान है। मानसून के समय से पहले पहुंचने का अनुमान लगाया जा रहा है। जी दरअसल दक्षिण पश्चिम मानसून अगले दो से तीन दिनों के दौरान केरल पहुंच सकता है। मौसम विभाग ने कहा, “मौसम संबंधी नए संकेतों के अनुसार, दक्षिण अरब सागर के निचले स्तरों में पछुआ हवाएं चलनी तेज हो गई हैं। सैटेलाइट तस्वीरों से पता चलता है कि केरल तट और उससे सटे दक्षिण पूर्व अरब सागर में बादल छाए हुए हैं। अगले दो से तीन दिनों के अंदर केरल में मानसून की शुरुआत के लिए परिस्थितियां अनुकूल होती दिख रही हैं।” वहीं मानसून वक्त से बहुत पहले ही 16 मई को अंडमान एवं निकोबार द्वीपसमूह पहुंच गया था और च्रकवात के शेष प्रभाव के चलते इसके आगे बढ़ने के आसार थे।

इस राज्य में भीषण आंधी बारिश का अनुमान, मौसम विभाग ने दी चेतावनी

बड़ा खतरा! बढ़ता जा रहा है नर्क के दरवाजे का छेद, निगल रहा आस-पास की चीजें

8 साल तक पेड़ से बंधी रही युवक की जिंदगी, दिल को झकझोर देने वाला मामला

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -