'भाजपा को केवल एकसाथ मिलकर ही हरा सकते हैं...', ममता के बयान पर बोले दिग्विजय सिंह

भोपाल: पश्चिम बंगाल की सीएम और तृणमूल कांग्रेस (TMC) ममता बनर्जी की ‘UPA नहीं है’ टिप्पणी के बाद, कांग्रेस के दिग्गज नेता दिग्विजय सिंह ने गुरुवार को दावा किया कि कांग्रेस के बगैर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के खिलाफ कोई भी सियासी गठबंधन संभव नहीं है. मीडियाकर्मियों से बात करते हुए, दिग्विजय ने कहा कि, ‘जो लोग हमारे साथ आना चाहते हैं, उन्हें हमारे साथ आना चाहिए और जो हमसे जुड़ना नहीं चाहते हैं, वे ऐसा करने के लिए आज़ाद हैं. हमारी लड़ाई भाजपा के विरुद्ध है.’

कांग्रेस नेता ने कहा कि, ‘कांग्रेस को छोड़कर करीब तमाम दलों ने भाजपा के साथ सरकार बनाई है. सिर्फ एक कांग्रेस पार्टी है जो सत्ता में पार्टी के खिलाफ लड़ रही है. हमारे बिना इस देश में भाजपा के खिलाफ कोई सियासी गठबंधन संभव नहीं है. दिग्विजय सिंह ने आगे कहा कि विचारधारा इस देश में सियासी झगड़ों की मुख्य वजह है. उन्होंने दावा किया कि, ‘भारत में दो प्रकार की विचारधाराएं हैं, एक ‘गांधी और नेहरू’ की है, दूसरी ‘संघ’ की है जो राजनीति में धर्म को हथियार के रूप में उपयोग करती है.

दिग्विजय सिंह ने आगे कहा कि, कांग्रेस ने कभी भी राजनीति के लिए धर्म का उपयोग नहीं किया. सभी दलों को यह समझने की आवश्यकता है कि भाजपा को एक साथ आने से ही हराया जा सकता है. हम सभी को एक साथ आने और भाजपा से लड़ने की आवश्यकता है. उन्होंने कहा कि, ‘उत्तर प्रदेश में भी भाजपा के खिलाफ केवल प्रियंका गांधी वाड्रा ही लड़ रही हैं. बता दें कि पश्चिम बंगाल की सीएम ममता बनर्जी ने बुधवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) चीफ शरद पवार से मुलाकात के बाद कहा, ‘UPA क्या है? कोई UPA नहीं है.’

विपक्षी दल अपने दम पर बीजेपी से नहीं लड़ सकते: दिनेश शर्मा

वाजिद अली शाह प्राणी उद्यान के 100 वर्ष हुए पूरे, समरोह में पहुंचकर सीएम योगी ने की इनसे मुलाकात

केरल में राज्यसभा की एक सीट के लिए उपचुनाव

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -