वायनाड लोकसभा सीट: 'गाँधी' ही बना राहुल के लिए मुसीबत, जानिए कैसे...

वायनाड लोकसभा सीट: 'गाँधी' ही बना राहुल के लिए मुसीबत, जानिए कैसे...

वायनाड : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को केरल की वायनाड लोकसभा सीट में तीन ऐसे उम्मीदवारों से टक्कर मिलेगी, जिनके नाम उनके नाम व उपनाम से मिलते जुलते हैं। राहुल गांधी ने वायनाड लोकसभा सीट से अपना नामांकन दाखिल कर दिया है, जहां उनका मुकाबला मुख्य प्रतिद्वंद्वियों के साथ ही दो हमनाम और एक उनके उपनाम से मेल खाते प्रत्याशी से होगा।

ओडिशा में बोले पीएम मोदी, कहा- आपका चौकीदार अपने मालिकों का आशीर्वाद लेने आया है...

2019 लोकसभा चुनाव के लिए केरल में नामांकन वापस लेने का आखिरी दिन सोमवार है और राज्य की सभी 20 लोकसभा सीटों के लिए वोटिंग 23 अप्रैल को होगी। राहुल गांधी के विरुद्ध वायनाड में चुनाव मैदान में कोट्टायम जिले से आने वाले निर्दलीय प्रत्याशी के ई राहुल गांधी (33) और अगीला इंडिया मक्कल कझगम पार्टी के नेता कोयंबतूर के के राहुल गांधी (30) हैं। वहीं, तीसरे प्रत्याशी त्रिसूर के के एम शिवप्रसाद गांधी (40) हैं जो निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में वायनाड से चुनावी मैदान में हैं।

राहुल गाँधी के आडवाणी पर बिगड़े बोल, सुषमा बोली - मर्यादा में रहें

प्रत्याशियों द्वारा दाखिल हलफनामे के मुताबिक, के ई राहुल गांधी भाषाविज्ञान में एमफिल हैं और एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं जिनके पास स्वयं का पैनकार्ड नहीं है, किन्तु उनकी गृहणी पत्नी के पास पैन कार्ड है। दोनों के ऊपर कोई देनदारी नहीं है। उनके पास नकद 5,000 रुपये और बैंकों में 515 रुपये जमा हैं। इनके पास कोई अचल संपत्ति भी नहीं है। वहीं के राहुल गांधी पत्रकार हैं और उनकी पत्नी दंत चिकित्सक हैं।

खबरें और भी:-

आज है भाजपा का स्थापना दिवस, अहमदाबाद में रोड शो करेंगे अमित शाह

चंद्रबाबू नायडू के नेताओं की हैवानियत, विवाद में लोगों को कार से कुचला

योगी-नकवी पर कोई एक्शन नहीं लेता चुनाव आयोग, मेरी तो जीभ काट दी थी - आज़म खान