मरने से पहले भेजे हुए मैसेज बनेंगे अहम सबूत

भागलपुर. अवैध संबंधों के चलते अपनी पत्नी की बेरहमी से पिटाई कर, करंट लगाकर उसकी हत्या करने के मामले में गिरफ्तार, मृतका नेहा के पति दिनेश कुमार आजाद उर्फ दिनेश रजक के खिलाफ नए सबूत हाथ आये हैं. नेहा के भाई ने नेहा से वाट्सएप पर हुई बातचीत और फोटो को पुलिस के समक्ष पेश किया है. पुलिस वॉट्सऐप मैसेज और ब्रेड-आमलेट के फोटो को पुख्ता सबूत बनाएगी.

 

18 नवंबर को पुलिस सूत्रों ने बताया कि 18 नवंबर को नेहा ने अपनी बहन और भाई को वॉट्सऐप पर दिनेश के बारे में कई मैसेज किये थेमैसेज में नेहा ने लिखा था कि दिनेश उसे ब्रेड-आमलेट में दवा मिलाकर खिलाता हैं, ताकि वो मां न बन सकेदवा मिलाकर तैयार किए गए ब्रेड-आमलेट की फोटो भी नेहा ने अपने भाई को वॉट्सऐप पर भेजी थी. नेहा ने यह लिखा भी था कि इस बात की चर्चा किसी से नहीं करना और फोटो को भी डिलीट नहीं करना.

 

पुलिस ने मैसेज से संबंधित स्क्रीन शॉट परिवार से मांगा है, ताकि जांच में इसे महत्त्वपूर्ण सबूत के रूप में पेश किया जा सके. मामले में नेहा के पिता कैलाश रजक के आवेदन पर इशाकचक थाने में दहेज हत्या का केस दर्ज किया गया है. मामले में दिनेश के अलावा नेहा के जेठ मनोज कुमार आजाद, जेठानी जूली आजाद को आरोपी बनाया गया है, उनकी गिरफ्तारी नहीं हो पाई है.

 

शादी का झांसा देकर ढाई साल तक शोषण

राहुल गांधी के विवादित वचन

बैतूल - टक्कर मारकर डंपर ग्रामीणों पर पलटा

Most Popular

- Sponsored Advert -