राम मंदिर निर्माण देश में एक महत्वपूर्ण मुद्दा, मुस्लिम भी है दहशत में : वसीम रिजवी

नई दिल्ली : अयोध्या राम मंदिर मामले पर आए दिन बयानबाजी चलती रहती हैं. इसी कड़ी में अब उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के चेयरमैन वसीम रिजवी ने राम मंदिर पर एक बड़ा बयान दिया हैं. जहां उन्होंने कहा हैं कि देश के 80 करोड़ हिन्दुओं की आस्था राम मंदिर से जुड़ी हुई हैं. उन्होंने यह माना कि देश में पिछले 7 दशकों से कुछ कट्टरपंथी मुस्लिमों की वजह से 80 करोड़ हिंदुओं की आस्था अदालतों के दरवाजों पर खड़ी है. 

जानकारी के मुताबिक, इस संबंध में वसीम रिजवी ने पीएम मोदी को एक पत्र लिखा हैं. इसी चिट्ठे के माध्यम से उन्होंने राम मंदिर के निर्माण में रोड़ा बन रहे मुस्लिमों को जमकर खदेड़ा हैं. उन्होंने यह भी कहा कि नफरत लगातार तेजी से बढ़ रही हैं. नफरतों का बाजार काफी गर्म होता जा रहा हैं. और मुसलमान भी खुद को असुरक्षित महसूस कर रहे हैं.

वसीम रिजवी ने कहा कि देश के मुसलमान भी इस समय दहशत में जी रहे हैं. हालात देखकर ऐसा लगता है कि किसी भी वक्त बड़ा फसाद हो सकता है. वसीम ने पकिस्तानम को इस मामले में घसीटते हुए कहा कि इस फसाद में पड़ोसी दुश्मन पकिस्तान हालात देखकर ऐसा लगता है कि किसी भी वक्त बड़ा फसाद हो सकता हैं. चिट्ठी के मुताबिक, वसीम ने पीएम को लिखा कि पिछले चार सालों में जो काम हुआ है वह आपकी जिम्मेदारी थी, जिसे आपने बखूबी निभाया है. विकास कोई मुद्दा नहीं होता है. आगे वे लिखते हैं कि श्री राम मंदिर निर्माण देश में एक महत्वपूर्ण मुद्दा हैं. 

संसद भवन में नहीं होगा इफ्तार का आयोजन, ये है कारण

प्रणब दा नागपुर में, अब उनके भाषण का इंतज़ार

नीतीश सरकार लाई फसल सहायता योजना

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -