बाबरी विध्वंस की बरसी पर आज ये दिग्गज मुस्लिम 'इस्लाम' छोड़ अपनाएगा 'हिन्दू धर्म'

लखनऊ: उत्तर प्रदेश शिया वक्फ बोर्ड के पूर्व अध्यक्ष वसीम रिजवी आज बाबरी विध्वंस की बरसी पर हिंदू धर्म अपनाएंगे. रिजवी ने बीते दिनों ही इसका ऐलान किया था. गाजियाबाद के डासना मंदिर में वसीम रिजवी हिंदू धर्म की दीक्षा ग्रहण करेंगे. वहीं रिजवी के हिंदू बनने की घोषणा के बाद गाजियाबाद के डासना मंदिर में सुरक्षा पुख्ता कर दी गई है. जानकारी के मुताबिक, वसीम रिजवी को आज डासना मंदिर के पुजारी यति नरसिंम्हानंद गिरी महाराज हिंदू धर्म में दीक्षित करेंगे.
 
उल्लेखनीय है कि, रिजवी निरंतर अपने बयानों के चलते सुर्खियों में रहते हैं. रिजवी ने बीते दिनों अपना वसीहत भी जारी की थी. बताया जा रहा है कि वे आज यानी 6 दिसंबर को वे 10 बजे हिंदू धर्म में शामिल हो जाएंगे. उधर, AIMIM प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की शिकायत के आधार पर वसीम रिजवी और उनके सहयोगियों के खिलाफ IPC की धाराओं 153 ए, 295 ए और अन्य धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया था. दरअसल, रिजवी ने एक किताब लिखी है, जिसमें एक समुदाय विशेष के भगवान पर टिप्पणी की थी.

बाबरी विध्वंस की बरसी पर प्रशासन अलर्ट:-

वहीं, बाबरी मस्जिद विध्वंस की बरसी पर प्रशासन अलर्ट पर है. मथुरा, काशी और अयोध्या की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद कर दी गई है. वहीं पूरे राज्य में हाई-अलर्ट जारी कर दिया गया है. एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशान्त कुमार ने बताया कि सुरक्षा व्यवस्था पर निगरानी रखी जा रही है, राज्य में किसी भी तरह के अनुष्ठान की अनुमति नहीं दी जाएगी.

'हमारे जवानों को कोई हल्के में नहीं ले', BSF स्थापना दिवस कार्यक्रम में बोले अमित शाह

राकेश टिकैत को मिलेगा अंतर्राष्ट्रीय सम्मान, लंदन की इस कंपनी ने किया ऐलान

NIMHANS दे रहा इन पदों पर नौकरी का शानदार मौका, जल्द करें आवेदन

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -