अंजनाद्री हिल्स पर हुआ था हनुमान जी का जन्म? तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम आज पेश करेगा सबूत

Apr 21 2021 10:48 AM
अंजनाद्री हिल्स पर हुआ था हनुमान जी का जन्म? तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम आज पेश करेगा सबूत

भारत देश अपनी धार्मिक मान्यताओं के लिए जाना जाता है, वही हनुमान का जन्म कहां हुआ था? इस प्रश्न का उत्तर आज मिल सकता है। दरअसल, तिरुमाला तिरुपति देवस्थानम (टीटीडी) का दावा है कि भगवान हनुमान का जन्म अंजनाद्री हिल्स पर हुआ था। इसके लिए टीटीडी की तरफ से आज दोपहर 11 बजे गवाह पेश किए जाएंगे। अंजनाद्री हिल, उन सात पहाड़ियों में से एक है, जिस पर श्री वेंकटेश्वर स्वामी मंदिर मौजूद है।

टीटीडी ईओ डॉ। केएस जवाहर रेड्डी ने विद्वानों से बताया कि वे तिरुमाला को हनुमान के जन्मस्थान के तौर पर घोषित करने के लिए सभी ऐतिहासिक तथा पौराणिक साक्ष्य तैयार रखें। तिरुमाला मंदिर के भीतर खास पूजा के पश्चात् टीटीडी आधिकारिक रूप से श्रीरामनवमी के शुभ दिन पर तिरुमाला में अंजनाद्री हिल्स को हनुमान के जन्मस्थान के तौर पर घोषित करने जा रहा है।

भगवान हनुमान के जन्मस्थान का ऐलान टीटीडी ने पहले तेलुगु नववर्ष उगादि पर करने की सोची थी, मगर बाद में निर्णय परिवर्तित कर दिया गया तथा आज मतलब श्रीरामनवमी के दिन इसकी घोषणा की जा रही है। प्रकाशम जिले के डॉ। अन्नदानम चिदंबरा शास्त्री ने अपनी रिसर्च में पाया है कि भगवान हनुमान का जन्मस्थान सच में अंजनाद्री पहाड़ी है। डॉ। अन्नदानम चिदंबरा शास्त्री का कहना है, 'हनुमान की मां अंजना देवी, गौतम महर्षि-अहल्या दंपति की बेटी थीं। गौतम महर्षि ने अपनी बेटी को एक कपि राज को दे दिया, फिर उन्होंने केसरी से विवाह कर लिया। दंपती अंजनाद्री पहाड़ी पर गए तथा वहां अंजनी ने बच्चे के लिए महादेव का आशीर्वाद पाने के लिए तपस्या की। बाद में महादेव के आशीर्वाद से अंजनी ने अंजनाद्री पहाड़ी पर हनुमान को जन्म दिया।'

कोरोना की चपेट में आए धोनी के माता-पिता, अस्पताल में हुए भर्ती

केंद्र पर बरसीं प्रियंका वाड्रा, बोलीं- लोग मर रहे हैं और पीएम रैलियों में हंस रहे हैं...

सेना ने पूर्वोत्तर के लिए आम प्रवेश परीक्षा को किया स्थगित