आईडिया-वोडाफोन को मिली विलय की मंजूरी

आईडिया-वोडाफोन को मिली विलय की मंजूरी

नई दिल्ली: टेलीकॉम इंडस्ट्री में गुरुवार को सबसे बड़े मर्जर को मंजूरी मिल गई है. दोनों कंपनियों ने गत सोमवार को 7,268 करोड़ रुपये की रकम जमा करा दी थी. इसमें 3,924 करोड़ रुपये नकद जमा कराए गए थे, जबकि 3,342 करोड़ रुपये की बैंक गारंटी जमा करायी गई थी.

Redmi Y2 स्मार्टफोन की सेल शुरू हो चुकी है..

दूरसंचार विभाग (DoT) ने दोनों के विलय को अंतिम मंजूरी दे दी है. दोनों के मर्जर होने से बनने वाली नई कंपनी देश की सबसे बड़ी टेलीकॉम कंपनी होगी. सूत्रों के मुताबिक, DoT दोनों कंपनियों के प्रमुख को सर्टिफिकेट सौंप दिए गए हैं. इस विलय के बाद दोनों कंपनियों के पास कुल 43 करोड़ से भी ज्यादा ग्राहक होंगे.

Samsung ने हासिल किया नंबर 1 स्मार्टफोन कंपनी का तमगा

नई कंपनी का नाम वोडाफोन-आइडिया लिमिटेड होगा. ग्राहक संख्या के हिसाब से भी यह देश की सबसे बड़ी मोबाइल दूरसंचार सेवा कंपनी हो जाएगी. दोनों कंपनियों के विलय के बाद से नई कंपनी की संयुक्त कमाई 1.5 लाख करोड़ रुपए से अधिक मानी जा रही है, जिसका 35 फीसदी मार्केट पर कब्जा होगा. नई कंपनी के पास करीब 43 करोड़ ग्राहक होंगे. नई कंपनी रिलायंस जियो के आने के बाद टेलीकॉम बाजार आकर्षक पैकेज देकर ग्राहकों को अपनी खींच रहा है. लेकिन अब इस विलय के बाद बाजार में और अच्छे ऑफर्स आने के आसार है.

ख़बरें और भी...

SBI ग्राहकों के लिए आई नई सुविधा ''क्विक ट्रांसफर''

वोडाफोन का नया प्लान 47 रुपये में इतना कुछ

Twitter की नई पॉलिसी, अब झूठी ख़बरों को नहीं मिलेगी हवा

?