समझदारी भरा था पैलेटगन का उपयोग

कोलकाता। केंद्रीय विदेश राज्य मंत्री वीके सिंह ने कहा कि जम्मू - कश्मीर राज्य में हिंसा रोकने के लिए पैलेट गन का उपयोग सुरक्षा बलों द्वारा किया गया था। यह एक समझदारीभरा कदम था। उन्होंने केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह को लेकर कहा कि गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने एक अच्छा निर्णय लिया था। उन्होंने कहा कि पैलेट गन चलाने के दौरान वे ही लोग घायल हुए जो गन चलने पर भी काफी करीब गए थे।

उनका कहना था कि यह गन एक गैर नुकसानी हथियार है। जो कि घातक नहीं होता है। इस मामले में उन्होंने कहा कि कोलकाता में फेडरेशन आॅफ एसोसिएशन आॅफ स्माल इंडस्ट्रीज़ आॅफ इंडिया की वार्षिक आम बैठक में शामिल होने पहुंचे थे।

दरअसल दक्षिण कश्मीर के प्रदर्शनकारियों को नियंत्रित करने के लिए सुरक्षा बलों ने पेलेट गन से फायरिंग की इस दौरान पत्थरबाज की मौत होने की बात सामने आई। हालांकि पैलेटगन से हुई फायरिंग के दौरान 6 प्रदर्शनकारियों के मारे जाने की बात सामने आई है। तो दूसरी ओर कुछ लोग घायल हो गए हैं। राज्य में पैलेट गन पर बैन लगाने और उसका विकल्प तलाशने की मांग की गई थी जिसके बाद मिर्ची के गोलों का उपयोग करने की बात सामने आई थी।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -