विटामिन डी की कमी से बच्चे हो सकते हैं आक्रामकता का शिकार

विटामिन डी की कमी से बच्चे हो सकते हैं आक्रामकता का शिकार

जब बच्चे छोटे होते हैं तो उन्हें हर तरह के पोषण की जरूरत होती है जिसके लिए उनकी डाइट का ध्यान रखना पड़ता है. ऐसे ही शरीर को धुप लग्न भी जरुरी है. आजकल बिल्डिंगों की बढ़ती ऊंचाई और बच्चों के हाथ में टेक्नॉलजी के आ जाने से उन तक धूप का पहुंचना काफी मुश्किल हो गया है. धूप विटमिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत है ऐसे में विटमिन डी की कमी एक बड़ी समस्या के रूप में सामने आ रही है. अगर ये आपको सही तरीके से नहीं मिलती तो आपको कई तरह की बीमारी हो सकती है. 

आपको बता दें, इसके लक्षण जल्दी समझ नहीं आते लेकिन इसकी वजह से आगे चलकर कई समस्याएं हो सकती हैं. एक नई स्टडी के मुताबिक, विटमिन डी की कमी से युवाओं का व्यवहार आक्रामक हो सकता है. धुप ना मिलने से आपके बच्चे डिप्रेशन में भी जा सकते हैं. दरअसल, यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन के शोधकर्ताओं का दावा है कि उन्होंने बच्चों में विटमिन डी की कमी और युवाओं में आक्रामकता का कनेक्शन जोड़ लिया है. इस स्टडी के अनुसार, कोलंबिया में ज्यातार सारे ऐसे बच्चे जिनमें विटमिन डी कम था वे बड़े होकर ज्यादा आक्रामक बने. 

जर्नल ऑफ न्यूट्रीशन में छपी स्टडी के सीनियर ऑथर एडुआर्डो ने बताया कि विटमिन डी कमी आगे चलकर डिप्रेशन और स्किट्सफ्रीनिया की वजह बनती है. इसके अलावा शोधकर्ताओं ने यह भी माना कि उनकी स्टडी में कुछ लिमिटेशंस भी थीं पर उन्हें अपने रिजल्ट पर भरोसा है. उनका मानना है कि जिन जगहों पर लोगों में विटमिन डी की कमी है वहां और स्टडीज करने की जरूरत है. 

पैरों की दिक्कतें देती हैं बिमारियों के संकेत, पहचाने

चढ़ जाये जब नस पर नस तो ऐसे पाएं दर्द से राहत

बच्चों को हो रहा वायरल तो घरेलु तरीके जल्दी करेंगे दूर