'यहां गैर-हिन्दुओं का प्रवेश वर्जित है..', काशी के गंगा घाट पर किसने लगाए ये पोस्टर ?

वाराणसी: बाबा विश्वनाथ की नगरी वाराणसी के गंगा घाटों और धार्मिक स्थलों पर 'गैर हिंदुओं का प्रवेश प्रतिबंधित' वाले पोस्टर चस्पा किए गए हैं. बता दें कि ये पोस्टर प्रशासन की तरफ से नहीं, बल्कि विश्व हिंदू परिषद (VHP) और बजरंग दल द्वारा लगाए गए हैं. यही नहीं इन पर लिखा है 'जिन लोगों की आस्था सनातन धर्म में है, उनका स्वागत है, नहीं तो यह पिकनिक स्पॉट नहीं है.' 

बता दें कि यह पहली बार नहीं है, जब काशी में बजरंग दल और VHP की तरफ से इस प्रकार का कार्य किया गया हो. इससे पहले 25 दिसंबर को चर्च के बाहर हनुमान चालीसा का पाठ, फिर 1 जनवरी को वाराणसी के मॉल और रेस्टोरेंट के बाहर पश्चिमी संस्कृति से संबंधित पार्टी न मनाने की चेतावनी वाले पोस्टर भी चस्पा किए जा चुके हैं. हिंदू संगठनों के कार्यकर्ताओं ने इस बार गैर हिंदुओं के प्रवेश पर रोक वाला चेतावनी पोस्टर गंगा घाट किनारे पक्के घाटों और धार्मिक स्थलों की दीवारों पर लगाया है. 

इन पोस्टरों पर स्पष्ट लिखा हुआ है कि जिन लोगों की आस्था सनातन धर्म में है उनका तो स्वागत है नहीं तो अन्य के प्रवेश पर रोक है. पोस्टर लगाने और जारी करने वाले विश्व हिंदू परिषद के काशी महानगर के मंत्री राजन गुप्ता ने जानकारी दी है कि गैर सनातन धर्म के लिए चस्पा किया जा रहा पोस्टर सिर्फ पोस्टर नहीं, बल्कि एक चेतावनी वाला संदेश है. 

झारखंड के रामगढ़ में क्यों फटी जमीन ? दरक गए आसपास के घर

पीएम मोदी शुक्रवार को कोलकाता में दूसरे सीएनसीआई परिसर का उद्घाटन करेंगे

सूरत हादसा: नाले में किसने और क्यों डाला केमिकल ? जिससे हो गई 6 मजदूरों की मौत

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -