जिसकी हत्या के जुर्म में 7 साल से कैद है विष्णु, पति के साथ मजे में है वह लड़की

लखनऊ: यूपी के अलीगढ़ जिले की एक नाबालिग लड़की मंदिर गई हुई थी। गायब हो चुकी है। फिर एक लाश मिली जो इसी लड़की की बात भी बताई जा रही है। अपहरण कर कत्ल का इल्जाम एक विधवा के बेटे विष्णु गौतम पर भी लगा दिया गया था। वह जेल में बंद है। वर्ष 2022 में अब वही लड़की जिंदा पाई गई थी। शादीशुदा है। दो बच्चे भी हैं। आगरा में रहती है। लड़की के जीवित होने की खबर सामने आने के उपरांत विष्णु की रिहाई की आवाज उसके परिजनों ने उठाई। लड़की को हिरासत में ले लिया गया है और अदालत में पेश किया गया है। पुलिस ने जाँच के उपरांत सामने आए तथ्यों पर कार्रवाई का विश्वास दिया है।

इस केस की शुरुआत 17 फरवरी 2015 हो चुकी है। 17 साल के एक नाबालिग लड़की के पिता ने थाना गौंडा थाने ने बेटी की गुमशुदगी की शिकायत दर्ज भी की जा चुकी है। शिकायत में बताया गया था कि मंदिर में जल चढ़ाने गई उनकी बेटी अचानक ही गुम हो गई है। 18 फरवरी को पुलिस ने इस केस में IPC की धारा 363 और 366 के तहत अज्ञात व्यक्ति के विरुद्ध FIR दर्ज की।

6 अप्रैल 2015 को लड़की के घर वालों ने इस केस में अपने ही गाँव ढाटौली के विष्णु गौतम को आरोपित कह दिया है। दावा किया कि मेले में विष्णु को लड़की के साथ देखा जा चुका है। 24 मार्च 2015 को पुलिस ने लावारिस हालत में एक लड़की की लाश जब्त की जा चुकी है। नाबालिग लड़की के घर वालों ने उसे अपनी बेटी का कहा है। जिसके उपरांत विष्णु पर हत्या की धारा 302 और सबूत मिटाने की धारा 201 भी लगा दी गई।

दहेज़, प्रताड़ना और तीन तलाक़.., आरिफ और उसके परिजनों पर केस दर्ज

वाराणसी में 50 साल पुराने शिव मंदिर में तोड़फोड़, हिन्दुओं ने मचाया हंगामा

फ्रिज सुधारने के बहाने घर में घुसा आसिफ, महिला को अकेला देख किया रेप, हुआ गिरफ्तार

न्यूज ट्रैक वीडियो

Most Popular

- Sponsored Advert -