कोहली के लिए बेहद खराब रहा 2021, दो सालों से फैंस को 'विराट' शतक का इंतज़ार

नई दिल्ली: अपनी पीढ़ी के सबसे बेहतरीन बल्लेबाजों में शुमार विराट कोहली के लिए साल 2021 बेहद मुश्किल रहा है। विराट कोहली दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सेंचुरियन में मौजूदा टेस्ट मुकाबले की दोनों पारियों में बड़ा स्कोर करने में नाकाम रहे। पहली पारी में 35 रन और दूसरी में महज 18 रन बनाने के बाद विराट कोहली पवेलियन लौट गए। नतीजा यह हुआ कि 2019 से जारी 71वें अंतर्राष्ट्रीय शतक का इंतजार और भी लंबा हो गया। 

 

दक्षिण अफ्रीका में विराट कोहली का रिकॉर्ड शानदार है, इसलिए उनके फैंस को इस दौरे पर आने से पहले 2019 से जिस 71वें शतक का इंतज़ार था, उसके पुरे होने की उम्मीद थी। विराट कोहली सेंचुरियन टेस्ट की पहली पारी में तो अच्छी लय में दिखे, लेकिन उन्होंने अपना विकेट जल्द ही गंवा दिया। दूसरी पारी में भी ऐसा ही हुआ, जब विराट कोहली ख़राब स्ट्रोक खेलने के कारण आउट हो गए। किसी ने भी कप्तान विराट कोहली से ऐसे प्रदर्शन की उम्मीद नहीं की थी। विराट कोहली की बल्लेबाज़ी 2021 में इतनी खराब रही है कि वह तीनों प्रारूपों को मिलाकर भी एक हज़ार रन भी नहीं बना पाए हैं। विराट कोहली इस साल 24 मैच खेले, जिसमें टेस्ट, ODI और टी20 शामिल हैं, और 30 पारियों में कोहली महज 964 रन ही बना सके हैं। इस दौरान कोहली का औसत 37.07 रहा है, जो उनके कर्रिएर औसत से बेहद कम है।

यदि टेस्ट क्रिकेट की बात करें तो कोहली ने इस साल सिर्फ 11 मैच खेले हैं और 536 रन बनाए हैं। विराट कोहली का टेस्ट औसत महज 28.21 का रहा है। विराट कोहली का आखिरी टेस्ट शतक साल नवंबर 2019 में बांग्लादेश के खिलाफ आया था। वहीं, वनडे क्रिकेट में विराट कोहली ने आखिरी शतक अगस्त 2019 में वेस्टइंडीज के खिलाफ लगाया था। विराट कोहली के नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 70 शतक दर्ज हैं, लेकिन 71वें शतक का इंतज़ार दो साल से जारी हैं।

टीम इंडिया की जीत में विलन बन सकता है मौसम ! जानें सेंचुरियन की वेदर रिपोर्ट

सेंचुरियन टेस्ट: जीत से महज 6 विकेट दूर टीम इंडिया, क्या बुमराह-शमी कर पाएंगे कमाल ?

200 विकेट पूरे कर भावुक हुए मोहम्मद शमी, दिवंगत पिता को किया याद.. देखें Video

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -