इन खिलाड़ियों के बीच बढ़ी वार्तालाप, शुरू हुई 90 के दशक की चर्चा

भारतीय क्रिकेट कप्तान विराट कोहली और राष्ट्रीय फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री एक-दूसरे के आमने सामने हुए तो उन्होंने 90 के दशक के समय अपने बचपन को एक बार फिर से याद किया. छेत्री रविवार को इंस्टाग्राम पर 'इलेवनऑनटेन' शो में होस्ट की भूमिका निभा रहे थे. इस दौरान छेत्री ने कोहली से 90 के दशक के दौर के बारे में पूछा. 90 के दशक में दोनों सुपरस्टार खिलाड़ी एक साथ नई दिल्ली में बड़े हुए थे.

भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान छेत्री ने कोहली के साथ बातचीत के कुछ हिस्से सोमवार को अपने ट्विटर पर साझा किए. उन्होंने ट्विटर पर कहा, "दो बच्चे 90 के दशक के उस समय को याद कर रहे हैं जब वे बड़े हो रहे थे." कोहली ने अपने 90 के दशक को याद करते हुए कहा, " आप जहां से आते हैं, उसे आपको कभी नहीं भूलना चाहिए." उन्होंने कहा, " मेरा बचपन पश्चिमी दिल्ली के अच्छे समाज में रहते हुए बीता है. इसलिए मैंने जो कुछ सीखा है, वह यह है कि जब भी मैं अपने समाज के किसी दोस्त से मिलता हूं, तो मैं उनसे उसी तरह से बात करता हूं, जब मैं वहां रहकर उस समय किया करता था. मेरे लिए वह सबसे बड़ी चीज है, जिससे आप कभी दूर नहीं होते."

दोनों दिग्गजों के बीच जारी बातचीत के दौरान कोहली ने महान बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर की 1998 में शारजाह में आस्ट्रेलिया के खिलाफ खेली गई उस पारी को याद किया जिसे डेजर्ट स्ट्रोम के नाम से जाना जाता है. छेत्री ने कोहली से पूछा, अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट में एक ऐसी पारी जो आप खेलना चाहते थे? कोहली ने कहा, "1998 डेजर्ट स्ट्रोम." इस पर छेत्री ने कहा, "कौन सी, सेमीफाइनल में या फाइनल में?." इसके बाद क्रिकेट कप्तान कोहली ने जवाब दते हुए कहा, " पहली वाली, जिस पारी से हम फाइनल में पहुंचे थे."

ARLC : इन स्टेडियम में आयोजित होगी रग्बी लीग

जूनियर एनटीआर के जन्मदिन पर रिलीज़ हो सकता उनका फर्स्ट लुक, सामने आए खास वजह

कोहली ने की RSS संगठन सेवा भारती की प्रशंसा, बोले- आपने अद्भुत कार्य किया

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -