रिलायंस रिफाइनरी में हंगामा, 100 गाड़‍ियां फूंकी, कर्फ्यू लगाया

जामनगर : गुजरात की इंडस्ट्रियल सिटी जामनगर में गुरुवार को रिलायंस कंपनी में एक मजदूर की मौत के बाद हिंसा भड़क उठी. मजदूर अपने साथी की लाश बाहर लाना चाहते थे, लेकिन मैनेजमेंट ने उन्हे ऐसा नहीं करने दिया. इससे नाराज मजदूरों ने करीब 100 गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया. हालात बेकाबू होते देख पुलिस को फायरिंग करनी पड़ी जिसमें एक मजदूर की मौत और 3 के घायल होने की खबर है.

इस घटना के बाद शुक्रवार को इलाके में कर्फ्यू लगा दिया गया और घटना के बाद से कई प्लांट बंद हैं.  घटना की गंभीरता को समझते हुए रिलायंस रिफाइनरी, कॉलोनी और आसपास के इलाकों में पुलिस व SRP के जवानों की टुकड़ियां भी लगाई गई हैं.

क्या है मामला?

गुरुवार दोपहर 50 मजदूर ट्रक में बैठकर कंपनी से बाहर आ रहे थे. तभी अचानक एक मजदूर ट्रक से गिर गया और उसकी मौत हो गई. जब मजदूर लाश बाहर निकालने लगे तो कंपनी के सिक्युरिटी गार्ड ने मजदूर की लाश बाहर नहीं निकालने दी. गार्ड का कहना था कि 'ऊपर से' लाश बाहर न जाने देने के ऑर्डर हैं. इससे उसके साथी भड़क गए और वाहनों को आग के हवाले कर दिया.

हालात बेकाबू होने पर पुलिस को 35 राउंड फायर किए, जिसमें एक मजदूर की मौत और 3 के घायल हो गए. घटना के बाद मजदूरों की कॉलोनी में कर्फ्यू लगा दिया गया है. रिलायंस इंडस्ट्रीज के ग्रुप प्रेसिडेंट परिमल नथवाणी ने बताया कि मजदूर की मौत हार्ट अटैक से हुई थी, जबकि मजदूरों ने अफवाह फैला दी गई कि उसकी मौत ट्रक से गिरने से हुई है. इसके बाद कुछ लोग हिंसा करने लगे और वाहनों मे आग लगाने लगे.

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -