इंदौर मे बवाल पुलिस पर किया पथराव

इंदौर : इंदौर के पंढरीनाथ के समीप स्थित शेखर बस्ती में रहने वाले कुछ लोगों ने आज जमकर हंगामा मचाया। मकान हटाए जाने के दौरान दीवार गिरने से एक युवक की मौत हो गई। युवक की मौत से गुस्‍साई भीड़ ने पंढरीनाथ थाने पर पहुंचकर हंगामा किया और पथराव शुरू कर दिया। हालात बेकाबू होने पर पुलिस ने आंसू गैस के गोले छोड़े। दरअसल सारा मामला यहां रहने वाले करीब डेढ़ सौ परिवारों को हटाने को लेकर सामने आया। जब नगर निगम की गैंग इन परिवारों को हटाने पहुंची तो इन्होंने गैंग पर पथराव कर दिया। इस दौरान निगमकर्मी घायल हो गए। पुलिस ने भीड़ के बेकाबू होने पर हल्का बल प्रयोग किया और भीड़ को तितर - बितर करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़े। इस दौरान एक व्यक्ति की मौत हो गई। 

मिली जानकारी के अनुसार आज पंढरीनाथ थाना क्षेत्र के शेखर बस्ती के रहवासियों ने अपने मकान तोड़़े जाने का विरोध किया। इस दौरान नगर निगम की गैंग ने मकान हटाने की कार्रवाई को प्रारंभ किया। जिस पर बस्तीवालों ने विरोध कर हंगामा मचा दिया। क्षेत्र में खड़े वाहनों के कांच प्रदर्शनकारियों ने फोड़ दिए और पुलिस पर पथराव किया। इस दौरान एक वाहन में आग भी लगा दी गई।

पथराव से नगर निगम की गैंग में मौजूद अधिकारी और कर्मचारी घायल हो गए। हंगामा बढ़ता देख मौके पर तैनात पुलिस ने भीड़ को नियंत्रित करने का प्रयास किया लेकिन भीड़ बेकाबू होने लगी तो पुलिस ने हल्का बल प्रयोग कर उन पर आंसू गैस के गोले छोड़े। ऐसे में लोग भाग खड़े हुए। इसके बाद अधिकारियों ने हस्तक्षेप करते हुए बस्तीवालों को समझाईश दी। जिस पर कुछ सहमति बनी।

पंढरीनाथ थाना पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार आनंद पिता मोतीराम 25 वर्ष निवासी सिफी शेखर नगर अपने मकान की दिवार खुद ही तोड़ रहा था। इसी दौरान मकान में लगी फर्शी का हिस्सा उसके उपर गिरा और उसके सिर में चोट लगी। गंभीर रूप से घायल आनंद को अस्पताल में भर्ती करवाया गया लेकिन उपचार के दौरान उसने दम तोड़ दिया। मामले को लेकर पंढरीनाथ थाना पुलिस मर्ग कायम कर दिया है।

दूसरी ओर पुलिस द्वारा पथराव और हंगामा करने वाले प्रदर्शनकारियों के खिलाफ भी प्रकरण दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि शेखर बस्ती के रहवासियों को अन्यत्र मकान आवंटित कर दिए गए हैं लेकिन बस्ती के रहवासी इन मकानों में रहने के लिए तैयार नहीं हैं। आज जब निगम की गैंग यहां व्याप्त अतिक्रमण को हटाने पहुंचे तो बस्ती के रहवासियों ने विरोध कर दिया। देखते ही देखते हंगामा बढ़ गया और प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव कर दिया।

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -