पाई-पाई को मोहताज हुए विनोद कांबली, कभी थे सचिन तेंदुलकर के 'पक्के दोस्त'

नई दिल्ली: टीम इंडिया में मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर के साथ पदार्पण करने वाले खब्बू बल्लेबाज विनोद कांबली इन दिनों बेहद ख़राब स्थिति में जीवन बिता रहे हैं. उनकी कमाई का जरिया मात्र BCCI द्वारा उन्हें दी जाने वाली पेंशन ही रह गई है, जिससे उनका जीवन-यापन दिन-ब-दिन मुश्किल होता जा रहा है. लम्बे-लम्बे शॉट्स खेलने के लिए मशहूर कांबली कभी लाखों में कमाते थे, मगर आज पाई-पाई को मोहताज हो गए और काम की तलाश में हैं. 

18 जनवरी 1972 को मुंबई में जन्मे विनोद कांबली और क्रिकेट के भगवान कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर के गुरु रमाकांत आचरेकर ने भी  कांबली को मास्टर ब्लास्टर से भी अधिक टैलेंटेड माना था. किन्तु, इसे किस्मत का खेल ही कहेंगे कि सचिन आसमान की बुलंदियों पर पहुंच गए और विनोद कांबली अर्श से ऐसे गिरे कि उन्हें सही तरीके से फर्श भी नसीब नहीं हो रहा है. फिलहाल, कमाई की बात करें तो कांबली को BCCI से 30 हजार रुपये मासिक पेंशन मिलती है, जिससे उनका जीवन चलता है. 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, कांबली की नेट वर्थ 1 से 1.5 मिलियन डॉलर के मध्य है. 2022 की शुरुआत में आए डाटा के मुताबिक, उनकी वार्षिक आमदनी महज 4 लाख रुपये ही रह गई है. हालांकि, उनके पास मुंबई में खुद का घर है. किन्तु, देश की आर्थिक राजधानी में जीवन यापन के लिए यह काफी नहीं है. कार कलेक्शन की बात करें तो मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, उनके पास रेंज रोवर कार है.

जिम्बाब्वे के खिलाफ वन डे सीरीज से पहले टीम इंडिया के कप्तान केएल राहुल ने साझा की फोटो

'ODI और टेस्ट क्रिकेट को बचा लो..', कपिल देव ने ICC से लगाई गुहार

पाकिस्तानी बल्लेबाज़ का घमंड तोड़ने वाले 'वेंकटेश प्रसाद' को ये क्या हो गया ?

न्यूज ट्रैक वीडियो

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -