आज है विनायक चतुर्थी, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

Jan 10 2019 01:35 PM
आज है विनायक चतुर्थी, जानिए शुभ मुहूर्त और पूजा विधि

आप सभी को बता दें कि हिन्दू धर्मग्रंथों के अनुसार श्री गणेश की कृपा प्राप्ति से जीवन के सभी असंभव कार्य भी संभव हो जाते हैं. ऐसे में इस साल यानी 2019 की पहली विनायक चतुर्थी 10 जनवरी यानी आज मनाई जा रही है. कहते हैं चतुर्थी की तिथि भगवान श्री गणेश की तिथि है और शास्त्रों के अनुसार अमावस्या के बाद आने वाली शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायक चतुर्थी कहते हैं. ऐसे में पुराणों में लिखा हुआ है कि शुक्ल पक्ष की चतुर्थी को विनायकी तथा कृष्ण पक्ष की चतुर्थी को संकष्टी चतुर्थी कहते हैं और इस दिन श्री गणेश की पूजा दोपहर-मध्याह्न में की जाती है.

आइए जानते हैं कि कैसे करना है विनायक चतुर्थी का पूजन -

* सबसे पहले ब्रह्म मूहर्त में उठकर नित्य कर्म से निवृत्त होकर स्नान करें और लाल रंग के वस्त्र धारण कर लें.
* अब दोपहर पूजन के समय अपने-अपने सामर्थ्य के अनुसार सोने, चांदी, पीतल, तांबा, मिट्टी अथवा सोने या चांदी से निर्मित गणेश प्रतिमा स्थापित कर लें.
* इसके बाद संकल्प लें और षोडशोपचार पूजन कर श्री गणेश की आरती करें.
* अब श्री गणेश की मूर्ति पर सिन्दूर चढ़ाएं और गणेश का प्रिय मंत्र- 'ॐ गं गणपतयै नम:' बोलते हुए 21 दूर्वा दल चढ़ा दें.
* इसके बाद श्री गणेश को बूंदी के 21 लड्डुओं का भोग लगा दें और इनमें से 5 लड्‍डुओं का ब्राह्मण को दान दें तथा 5 लड्‍डू श्री गणेश के चरणों में रखकर बाकी को प्रसाद बांटे.
* अब पूजन के समय श्री गणेश स्तोत्र, अथर्वशीर्ष, संकटनाशक गणेश स्त्रोत का पाठ करें और ब्राह्मण को भोजन करवाकर दक्षिणा दें. 
* वहीं शाम के समय गणेश चतुर्थी कथा, श्रद्धानुसार गणेश स्तुति, श्री गणेश सहस्रनामावली, गणेश चालीसा, गणेश पुराण आदि का स्तवन करें और संकटनाशन गणेश स्तोत्र का पाठ करके श्री गणेश की आरती करें तथा 'ॐ गणेशाय नम:' मंत्र की माला जपें.

श्री गणेश पूजन का शुभ मुहूर्त - आज का मुहूर्त सुबह 11:26 से लेकर दोपहर 4:30 बजे तक का है जो फलदायी है.

आज भगवान गणेश को चढ़ा दें इस पेड़ का पत्ता, चमक जाएगी आपकी किस्मत

गणेश गायत्री मंत्र से आप सफल बना सकते हैं अपना जीवन, ऐसे करें जाप

अगर आपने भी घर के मुख्य द्वारा पर लगाई है गणेश जी की तस्वीर तो तुरंत करें यह काम...