पाकुड़ में छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर जोरदार हमला, अधिकारीयों को जान बचाने के लिए भागना पड़ा

Aug 23 2018 10:05 AM
पाकुड़ में छापेमारी करने गई पुलिस टीम पर जोरदार हमला, अधिकारीयों को जान बचाने के लिए भागना पड़ा

रांची। झारखण्ड के पाकुड़ जिले के महेशपुर थाना क्षेत्र के डांगापाड़ा गांव में प्रतिबंधित पशुओं की हत्या के मामले में जांच करने गयी पुलिस पर ग्रामीणों ने अचानक तीव्र हमला कर दिया। इस हमले में एएसआइ, बीडीओ, एसडीपीओ, समेत कई हवलदार जख्मी हो गए और उन्हें अपनी जान बचाने के लिए इलाके से भागना पड़ा। 

अब इस निर्देशक ने भी बाहर किया प्रियंका को ?


 
दर्दनाक हादसा, ट्रैन की चपेट में आई एक साथ 20 गायों की मौत

दरअसल बुधवार के दिन किसी ने 100 नंबर फ़ोन कर के पुलिस को सुचना दी थी कि गांव में गौमांस समेत कुछ अन्य प्रतिबंधित मांस की कटाई की जा रही। यह सुचना मिलते ही पुलिस इलाके में छापेमारी करने पहुंच गयी। लेकिन पुलिस के गांव में पहुंचने के कुछ देर बाद ही ग्रामीणों ने उन पर हमला कर दिया। पुलिस के अनुसार गांव में पहले से ही सैकड़ों की संख्या में महिला-पुरूष और यहाँ तक कि बच्चे भी लाठी-डंडा थामे हुए खड़े थे।

इस हमले में एएसआइ नंद कुमार, हवलदार संजय कुमार यादव और जवान माया शंकर गंभीर रूप से घायल हो गये है। इसके साथ ही बीडीओ, थानेदार, एसडीपीओ, पुलिस निरीक्षक सहित अन्य जवानों को जान बचाने के लिए पैदल ही भागना पड़ा। गौरतलब है कि गोवध पशु तस्करी अधिनियम 2005 की धारा एबी के तहत प्रतिबंधित पशुओं की हत्या करना कानूनन जुर्म है। पुलिस की छापेमारी और उन पर हुए हमले के बाद से पूरे महेशपुर में तनावपूर्ण स्थिति बनी हुई है।

ख़बरें और भी 

पुलिस के घर में घुस आतंकी बोले, नौकरी छोडो वर्ना जान गंवाओ

हरियाणा में गाय चोरी के शक में युवक की पीट-पीटकर हत्या

सैंकड़ो गायों ने जब घेर लिया वॉटर टैंक, गजब था नज़ारा

?