शहीदों को समर्पित जीत : विजेंदर सिंह

भारत को मुक्केबाजी से गौरवान्वित करने वाले विजेंदर सिंह ने अपनी जीत पर अपने फैंस को ट्विटर पर धन्यवाद किया इसके साथ ही उन्होंने कहा की मेरी यह जीत उन शहीदों के नाम है. जिन्होंने देश के लिए अपने प्राणों का बलिदान दिया.फिर लिखते है कि मेरे  दादा जी खुद अार्मी में थे और अार्मी की वजह से ही हम सब हैं. इसलिए उन्होंने अार्मी का धन्यवाद भी किया.

बता दे कि विजेंदरसिंह ने फ्रांसिस चेका को नाकआउट में हराकर डब्ल्यूबीओ एशिया पैसेफिक सुपर मिडिलवेट खिताब अपने पास बरकरार रखा. विजेंदर ने चेका को तीसरे राउंड में ही हराने में सफलता हासिल की.

विजेंदर सिंह ने जैसा कहा वैसा ही कर दिखाया. दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में सबके बीच अपने विपक्षी खिलाडी पूर्व वर्ल्ड चैंपियन फ्रांसिस चेका को तीसरे ही राउंड में नॉकआउट कर हरा दिया. महज 7 मिनट चले इस मुकाबले में उन्होंने चेका को चित कर दिया. विजेंदर ने लगातार 8वां मैच जीतकर एक नया कीर्तिमान बना दिया है.

जब विजेंदर और चेका के बीच मुकाबला होने वाला था उससे पहले उन्होंने कहा था कि वह 6 राउंड में चेका को हरा देंगे लेकिन उन्होंने इससे भी आधे राउंड में चेका को धुल चटा दी. बता दे कि इस मैच को देखने के लिए बॉक्सर मेरीकॉम, सुशील कुमार, सतपाल, योगेश्वर दत्त, खेल मंत्री विजय गोयल, गृहराज्य मंत्री किरेन रिजिजू, बाबा रामदेव के अलावा कई बड़ी हस्तिया मौजूद थी.

मालूम हो कि विजेंदर ने इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के कैरी होप को हराकर पहली बार एशिया पैसिफिक खिताब जीता था. इस बार चेका को हराने के बाद विजेंदर ने कहा कि चेका ने मुझे दांत से काटने की कोशिश भी की, लेकिन मैं बच गया. मैं उनकी मजे लेकर पिटाई करना चाहता था और मैंने यही किया. चेका मुकाबले से पहले बातें ज्यादा कर रहा था. मैं चाहता था मेरी जगह मेरे पंच बात करें. ऐसा ही हुआ

क्या विजेंदर रचेंगे मुक्केबाजी में भारत का नया इतिहास ?

जानिए किसे लट्ठ मारकर भागना चाहते है विजेंदर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -