वाइस प्रिंसिपल बताते है, लाल ब्रा पहनने का मकसद

By News Track
Dec 04 2017 02:19 PM
वाइस प्रिंसिपल बताते है, लाल ब्रा पहनने का मकसद

कोलकत्ता के जीडी बिरला स्कूल की एक पूर्व छात्रा रुकपथा बासु ने स्कूल के ऊपर निशाना साधते हुए एक और बड़ा खुलासा किया है. टोरंटो यॉर्क युनिवर्सिटी अध्यन कर रहीं बासु का ये बयान तब आया है, जब जीडी बिरला स्कूल का नाम महज़ 4 वर्षीय बालिका के साथ शिक्षकों के द्वारा किये गए योन शोषण का मामला पुरे देश में तुल पकड़ रहा है. इसकी आग विदेशो तक भी पहुंच रहीं है.

इसी कड़ी में बासु ने अपना अनुभव सुनाते हुए कहा की इस स्कूल में वाइस प्रिंसिपल लड़कियों के द्वारा खास मकसद से लाल ब्रा पहनने कि बात खुले तौर पर करते थे, और हमें चुप-चाप सब सहने पर मजबूर किया जाता था. उस वक़्त में डरी हुई थी और मेरी एक सहेली के साथ हुए अत्याचारों के खिलाफ आवाज़ नहीं उठा पाई. लेकिन अब में चुप नहीं बैठने वाली. 


मनोविज्ञान कि पढ़ाई करने वाली बासु ने लिखा स्कूल प्रशासन बहुत ताकतवर है, मजबूत है, वो आपकी नहीं सुनेगा और आपकी आवाज़ दबाने कि हर कोशिश करेगा. अपने ऊपर लगे हुए आरोपों को भी सिरे से नकारेगा. मगर स्कूल कि दीवारों के पीछे अपराधों का ये सिलसिला नया नहीं है. हमें गालियां दी जाती थी, गन्दी-गन्दी बातें सिखाई जाती थी, और मजबूर किया जाता था की हम उनका साथ दे. 

यहा क्लिक करे    

जीडीपी पर मनमोहन का बड़ा बयान

जीडीपी की बढ़ी दर ,होगा गुजरात चुनाव पर असर

अभिभावकों ने किया विरोध प्रदर्शन

मैट्रिक की छात्रा ने की खुदकुशी