अमित शाह के बाद उपराष्ट्रपति नायडु ने भी इतिहास को लेकर दोहराई यह बात

अमित शाह के बाद उपराष्ट्रपति नायडु ने भी इतिहास को लेकर दोहराई यह बात
Share:

नई दिल्लीः इन दिनों देश में इतिहास को लेकर बहस छिड़ी है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह द्वारा इतिहास को दोबारा लिखऩ की बात कहने के बाद इस बहस ने नया मोड़ ले लिया है। अब इस बहस में उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू भी शामिल हो चुके हैं। नायडू ने दिल्ली में तमिल स्टूडेंट्स एसोसिएशन के छात्रों को संबोधित करते हुए कहा कि अंग्रेजी इतिहासकारों ने इतिहास की घटनाओं को अपने अनुसार लिखा है। उन्होंने 1857 की क्रांति को कभी भी स्वतंत्रता के लिए किया गया पहला संघर्ष नहीं माना। ऐसे में इतिहास को भारतीय संदर्भों और मूल्यों के साथ दोबारा लिखने की आवश्यकता है।

इस अवसर पर उपराष्ट्रपति नायडू ने इतिहासकारों से नए सिरे से भारतीय संदर्भों—मूल्यों के मुताबिक इतिहास लिखने का आह्वान किया। उन्होंने कहा कि ब्रिटिश इतिहासकारों ने 1857 को महज एक ‘सिपाही विद्रोह' लिखा है। नायडू ने कहा कि भारत के शोषण से अंग्रेजों के अपने हित जुड़े हुए थे और इसमें इतिहास उनके लिए एक मददगार उपकरण की तरह बन गया। देश की शिक्षा प्रणाली से भारतीय संस्कृति और परंपरा झलकनी चाहिए। हमारे देश में 19 हजार से अधिक भाषाएं मातृभाषा के तौर पर बोली जाती हैं।

हमें इस समृद्ध भाषा विरासत को सहेजने की जरूरत है। उपराष्ट्रपति ने यह भी कहा कि भारत एक धन्य देश है, जहां पर कई भाषाएं मौजूद हैं, हमें गर्व होना चाहिए। हर बच्चे को उसकी मातृभाषा में ही स्कूली शिक्षा दी जानी चाहिए। इससे बच्चों की सीखने की क्षमता भी बढ़ेगी और भाषाओं को संरक्षण भी मिलेगा। नायडु ने कहा कि छात्र ही भविष्य का नेतृत्वकर्ता हैं। उन्हें पढ़ाई में उत्कृष्टता हासिल करने के साथ देश के सामने आने वाले मुद्दों के लिए भी सक्रियता दिखानी चाहिए।

एनसीआरबी रिपोर्टः देशभर में आपराधिक गतिविधियां बढ़ीं, जानें रिपोर्ट की प्रमुख बातें

आतंकी निजता के अधिकार का दावा नहीं कर सकते, सुप्रीम कोर्ट में केंद्र

अगले हफ्ते इस अहम इस्लामिक मूल्क की यात्रा पर जाएंगे पीएम मोदी, जानें दौरे की वजह

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -