ठिठुरा उत्तर भारत, गहरा रहा है शीतलहर का असर

लखनऊ। पश्चिमी उत्तर प्रदेश में शीतलहर का असर हो रहा है। हालात ये हैं कि, इन क्षेत्रों में दिन का तापमान सामान्य से करीब 6 डिग्री सेल्सियस कम है, इतना ही नहीं रात्रि का तापमान सामान्य दर्ज किया गया है। मौसम वैज्ञानिकों से मिली जानकारी के अनुसार, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के वायुमंडल में सिस्टम बना हुआ है। हालांकि, अब यह सिस्टम खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है। जानकारी सामने आई है कि, सुबह और शाम के समय कोहरा छा सकता है दूसरी ओर 9 जनवरी को मौसम साफ होने की संभावना है।

हालांकि, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के उत्तराखंड से सटे जिलों रामपुर,मुरादाबाद,बिजनौर,बरेली व अन्य क्षेत्रों में वायुमंडल के क्षेत्र में ट्रापिकल कटिबंधीय, हवाऐं स्थिर हो गई हैं। ऐसे में, तापमान में बढ़ोतरी नहीं हुई। मगर, अब तापमान धीरे - धीरे बढ़ रहा है। मकर संक्रांति के बाद, तापमान में और बढ़ोतरी की संभावना है। गौरतलब है कि, मकर संक्रांति से सूर्य की स्थिति में बदलाव आने लगता है। मुरादाबाद व आसपास के क्षेत्रों में तापमान कुछ बढ़ने के अलावा, उत्तरप्रदेश के अन्य शहरों में भी तापमान में बढ़त देखने को मिल रही है मगर, माना जा रहा है कि, अभी सुबह के समय वातावरण में अनुभव की जाने वाली ठंड से निजात नहीं मिल सकती है। अभी इन क्षेत्रों में शीतलहर का अनुभव किया गया है।

मौजूदा समय में तापमान में सुधार आने की संभावना है। भारतीय मौसम विज्ञान के विशेषज्ञों ने कहा है कि, दिन में धूप निकलने से लोगों को राहत मिल सकती है। मौजूदा समय में तापमान में जो बढ़त देखने को मिलती है वह धूप निकलने से ही अनुभव की जा रही है। सर्द मौसम के कारण वातावरण में कोहरा छा गया है और कोहरे के कारण जहां विमानों की उड़ान में देरी हो रही है वहीं ट्रेन्स देरी से चल रही हैं।

रैन बसेरों की व्यवस्था देखने पहुंचे सीएम योगी

शहीद की विदाई, यूपी सरकार परिजनों को देगी 50 लाख रुपये

माघ मेले में श्रद्धालुओं की सेवा कांग्रेसी कार्यकर्ता करेंगे

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -