+

अयोध्या फैसले पर विभिन्न धर्मगुरुओं ने लिया बड़ा संकल्प, कहा- राष्ट्रहित सर्वोपरि

Nov 11 2019 05:30 PM
अयोध्या फैसले पर विभिन्न धर्मगुरुओं ने लिया बड़ा संकल्प, कहा- राष्ट्रहित सर्वोपरि

नई दिल्ली: समाज के विभिन्न धर्मों के गुरूओं और बुद्धिजीवियों ने आज राष्ट्रहित को सर्वोपरि कहते हुए अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करने का संकल्प लिया है। इस मामले में शीर्ष अदालत का फैसला आने के एक दिन बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल के निवास पर देश के प्रमुख धर्मगुरूओं और बुद्धिजीवियों की एक मीटिंग हुई।

समाज के विभिन्न धर्मों के गुरूओं और बुद्धिजीवियों ने आज राष्ट्रहित को सर्वोपरि करार देते हुए अयोध्या में राम जन्मभूमि मंदिर विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले का सम्मान करने का संकल्प लिया। इस मामले में शीर्ष अदालत का फैसला आने के एक दिन बाद राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार (NSA) अजीत डोभाल के निवास पर देश के प्रमुख धर्मगुरूओं और बुद्धिजीवियों की एक अहम् मीटिंग हुई।

उन्होंने शांति, सांप्रदायिक सदभावना कायम रखने और कानून के शासन में सरकार को पूरा सहयोग देने की बात कही है। सूत्रों ने कहा है कि सभी प्रतिभागी इस बात से सहमत थे कि देश के अंदर और बाहर कुछ राष्ट्र विरोधी तथा शत्रु तत्व इस स्थिति का लाभ उठाकर राष्ट्रहित को नुकसान पहुंचाने का प्रयास कर सकते हैं। धर्मगुरूओं ने सरकार के शांति और कानून व्यवस्था की स्थिति बरक़रार रखने के लिए उठाये गये कदमों को समर्थन देने की प्रतिबद्धता जाहिर की।

अलीबाबा: सिंगल डे सेल्स की शुरुआती 9 घंटे में ही की 16 खरब की बिक्री

यदि खरीदने जा रहे है सोना, तो इन 4 बातों का रखे ध्यान

अक्टूबर माह में यात्री वाहनों की बिक्री में हुई वृद्धि