नोटबंदी को दो साल बीतने के बाद पकड़ाया पुराने नोटों का सबसे बड़ा जखीरा

Dec 07 2018 04:20 PM
नोटबंदी को दो साल बीतने के बाद पकड़ाया पुराने नोटों का सबसे बड़ा जखीरा

वाराणसी: देश में 500 और 1000 के नोटों को बंद हुए 2 साल से अधिक हो गए हैं, बावजूद इसके देश में पुराने नोटों का अवैध कारोबार धड़ल्ले से चल रहा है. इसका खुलासा पीएम नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र में उस समय हुआ जब एक मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने छापेमारी कर 1000 के नोटों के कुल 47 लाख रुपए जब्त किए. वाराणसी पुलिस और क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने मुखबिर की सूचना पाकर, उसपर कार्रवाई करते हुए एक व्यक्ति के पास से 47 लाख रुपए के पुराने नोट जब्त किए हैं.  इसके साथ ही गिरफ्तार किए गए दो व्यक्तियों से पूछताछ जारी है.

ICICI Bank के ग्राहकों के लिए खुशखबरी, अब रोबोटिक्‍स आधारित सॉफ्टवेयर देगा निवेश की सलाह
 
दरअसल वाराणसी के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने इन दिनों वाराणसी में इनामी बदमाशों के विरुद्ध अभियान छेड़ रखा है. इसी क्रम में पुलिस अधीक्षक नगर दिनेश सिंह व अन्य टीम ने एक मुखबिर की सूचना के आधार पर सारनाथ म्यूजियम तिराहा के पास बाइकसवार दो व्यक्तियों को गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों के पास से पुरानी 1000 रुपए के नोट सहित कुल 47 लाख रुपए मिले हैं.

भारतीय रेलवे देगा यात्रियों को ये नई सुविधा, दूर होगी परेशानी

पुलिस ने आरोपियों के नाम विकास सिंह और देवेन्द्र सिंह बताए हैं, इनके खिलाफ संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है साथ ही सभी नोटों को जब्त कर लिया है. आपको बता दें कि 8 नवंबर 2016 को भारत सरकार द्वारा 500 और हजार के नोटों को बंद कर दिया गया था, तभी से इन नोटों के इस्तेमाल पर रोक लगी हुई है.

खबरें और भी:-

 

इंदौर: दिल्ली जा रहे विमान के एक इंजन से धुआं निकलने पर हुई इमरजेंसी लैंडिंग

एयर इंडिया के दो पायलट हुए निलंबित, उड़ान में बरती थी लापरवाही

गोल्डन आवर्डस-2019 के लिए इन डायरेक्टर्स को किया गया नॉमिनेट