उत्तराखंड में सर्वाधिक वर्षा की चेतावनी, आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका

Aug 01 2020 02:28 PM
उत्तराखंड में सर्वाधिक वर्षा की चेतावनी, आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका

देहरादून: अभी बारिश का मौसम चल रहा है, ओर इस बीच देश के कई राज्यों में खुशनुमा माहौल बन रहा है, तो कहीं तबाही का मंजर छाया हुआ है. वही इस दौरान यमुनोत्री हाईवे शनिवार को दूसरे दिन भी कई स्थान पर मलबा आने से अवरुद्ध पड़ा है. वहीं बदरीनाथ हाईवे पर फिलहाल यातायात सुचारू है. राजधानी देहरादून में बादल छाए हुए हैं. कहीं-कहीं मध्यम बूंदाबांदी भी हो रही है. टिहरी में शुक्रवार रात्रि से रुक-रुक कर वर्षा जारी है. 

साथ ही बड़कोट में यमुनोत्री घाटी में रात्रि से ही रुक-रुक कर वर्षा जारी है. यहां वर्षा के चलते यमुनोत्री हाईवे जगह-जगह अवरुद्ध पड़ा हुआ है. हाईवे पर आज खनेड़ा पुल के समीप दूसरे दिन भी आवाजाही ठप है.चमोली शहर में बदरीनाथ हाईवे गौचर से माणा तक सुचारू है. शहर में 12 संपर्क मार्ग मलबा और बोल्डर आने से अवरुद्ध हैं. यहां फिलहाल मौसम साफ है.

इसी के साथ राज्य के कई शहरों में आज सर्वाधिक वर्षा हो सकती है. इसको देखते हुए, वैदर डिपार्टमेंट ने चेतावनी जारी की है. वैदर सेंटर की तरफ से जारी बुलेटिन के मुताबिक, राजधानी देहरादून के साथ ही टिहरी, पौड़ी शहरों में कई स्थानों पर तेज बौछार के साथ सर्वाधिक वर्षा हो सकती है. वहीं कुछ जगहों पर आकाशीय बिजली गिरने की भी आशंका है. मौसम केंद्र निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि फिलहाल वर्षा का क्रम बना रहेगा. वही बीते दो तीन दिनों में सर्वाधिक वर्षा की वजह से मलबा आने से राज्य में 235 सड़कें बंद हो गई हैं. ओर मार्ग बंद होने से वहा के लोगों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ा.

लालू यादव की सेहत को लेकर सरकार चिंतित, अस्पताल से बंगले में शिफ्ट करने की तैयारी

राजस्थान: गहलोत और पायलट खेमे के विधायकों का वेतन रोकने की मांग, HC में याचिका दाखिल

आज इंडिया हैकथॉन को संबोधित करेंगे पीएम मोदी, फाइनलिस्ट के साथ करेंगे विशेष चर्चा