मूसलाधार बारिश के बाद बदरीनाथ में हुई बर्फबारी, कई मार्ग हुए अवरुद्ध

देहरादून: देश के कई राज्यों में भारी बारिश ने हाहाकार मचा रखा है इस बीच उत्तराखंड की राजधानी देहरादून में अब प्रातः-रात्रि ठंड का अहसास होने लगा है। इन दिनों मौसम सुहावना हो गया है। धूप एवं बादलों की लुका-छिपी भी आए दिन नजर आ रही है। वहीं शुक्रवार को देहरादून में बादल छाए रहे। वही बदरीनाथ में वर्षा के पश्चात् शुक्रवार तड़के ऊंची चोटियों पर बर्फबारी हुई है। यहां नीलकंठ, उर्वशी, नर-नारायण तथा माणा पर्वत चोटियों पर बर्फबारी हुई है। जिससे बदरीनाथ में अब कड़ाके की ठंड पड़ने लगी है।

वही बदरीनाथ हाईवे मलबा आने से सेलंग तथा जोशीमठ के मध्य में अवरुद्ध हो गया है। उत्तरकाशी जिले में वर्षा का सिलसिला जारी है। यमुनोत्री हाईवे कल्याणी के पास भूस्खलन से बंद हो गया है तथा गंगोत्री हाईवे पर यातायात सुचारू है। वहीं नौगांव-पौंटी-राजगढी मोटर मार्ग पर कई स्थान पर मलबा आने तथा भू-धंसाव की वजह से सड़क बृहस्पतिवार रात से बंद है।

साथ ही भारी वर्षा से मलबा आने से दूरस्थ गांव सुतोल को यातायात से जोड़ने वाली घाट-सुतोल सड़क 5 दिनों से अवरुद्ध पड़ी है। सड़क अवरुद्ध होने से सुतोल, तातड़ा, सुगढ़ समेत समीप के गांवों के ग्रामीण दस से 15 किमी की पैदल दूरी तय कर रहे हैं। वही 19 सितंबर को घाट इलाके में हुई वर्षा से सुतोल सड़क पेरी पुल, पंजातोंखा तथा उफ्ठर बैंड में भूस्खलन होने से अवरुद्ध हो गई थी, जिसे अभी तक खोला नहीं गया है। लोक निर्माण विभाग के अफसरों को खबर देने के पश्चात् भी जब सड़क नहीं खुली तो बृहस्पतिवार को ग्रामीणों ने खुद ही सड़क पर फैले मलबे को हटाने की कोशिश की, किन्तु ग्रामीणों को सफलता नहीं प्राप्त हुई है।

असम हिंसा के विरोध में 'दरांग बंद' का ऐलान, सरकार ने दिए घटना की जांच के आदेश

नोरा फतेही ने बढ़ाया इंटरनेट का पारा, लुक देख फैंस हुए फ़िदा

नहीं होगी जातिगत जनगणना.., सुप्रीम कोर्ट में केंद्र सरकार ने दाखिल किया हलफनामा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -