संदिग्ध परिस्थितियों में हुई महिला बॉक्सर की मौत, परिवार वालों ने बताई मौत की ये वजह

देहरादून: उत्तराखंड के हल्द्वानी में MBPG कॉलेज की MA सेकंड सेमेस्टर की विद्यार्थी तथा नेशनल बॉक्सर हेमलता उर्फ हेमा दानू की रविवार की देर रात संदिग्ध स्थिति में मौत हो गई। वह कपकोट के बड़ेत (कफलानी) की रहने वाली थी तथा हल्द्वानी में ननिहाल में रहकर अध्ययन कर रही थी। मौत की वजहों का पता नहीं चल सका है। हालांकि परिवार के लोगों ने पुलिस को बताया कि बीते दिनों खटीमा में आयोजित मैच में हार के पश्चात् वह तनाव में आ गई थी। उसने गलत अंपायरिंग की बात बोली थी। परिवार वालों ने बॉक्सर के जहर खाकर जान देने का अंदेशा व्यक्त किया है।

वही बागेश्वर जिले के कफलानी नाचनी कपकोट निवासी कृपाल सिंह की 20 वर्षीय बेटी हेमलता कुमाऊं विश्वविद्यालय की राष्ट्रीय बॉक्सर थी। वह यहां छड़ायल स्थित ननिहाल में रहती थी। 10 सितंबर को वह खटीमा में हुई प्रतिस्पर्धा के फाइनल मुकाबले में पराजित हो गई थी। रविवार को उसकी स्थिति ख़राब होने पर उसे नैनीताल रोड स्थित एक प्राइवेट हॉस्पिटल में एडमिट कराया गया था जहां उपचार के चलते रविवार देर रात डेढ़ बजे उसने दम तोड़ दिया।

साथ ही काठगोदाम थाने की महिला उपनिरीक्षक लता खत्री ने परिवार के लोगों से पूछताछ की तो पता चला कि मैच हारने के पश्चात् वह तनाव में थी। इसी वजह से उसने जहर खा लिया था। आरोप है कि हेमलता गलत अंपायरिंग के कारण तनाव में थी। लता खत्री के मुताबिक, वह पंजाब स्पोर्ट्स शिक्षण संस्थान से अभ्यास ले रही थी। MBPG कॉलेज के क्रीड़ा प्रभारी डॉ. पुष्कर गौड़ ने कहा कि हेमलता ने कुमाऊं विश्विद्यालय की तरफ से आयोजित अंतर विश्वविद्यालयी नेशनल बॉक्सिंग प्रतियोगिता में हिस्सा लिया था।

'सास' हो तो ऐसी..., बहुओं को हर साल बनाती हैं 'लक्ष्मी', 3 दिनों तक पैर धोकर करती है पूजा

जानिए हिंदी से जुड़े ये 10 रोचक तथ्य

अगले 4 दिनों तक इस राज्य में होगी भारी बारिश, IMD ने जारी किया अलर्ट

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -