यूपी में पिता VS पुत्री, जानिए 'भाजपा' को लेकर क्या बोले स्वामी प्रसाद और बेटी संघमित्रा मौर्य

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में 5 वर्षों तक मंत्री रहकर इस्तीफा देने के बाद शुक्रवार को स्वामी प्रसाद मौर्य समाजवादी पार्टी का दामन थाम लिया है। सपा में जाने के दौरान उन्होंने भाजपा पर जमकर हमला बोला और कहा कि भाजपा को राज्य से उखाड़ फेकेंगे। मगर स्वामी प्रसाद की बेटी व बदायूं से भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य ने दावा किया है कि यूपी में फिर से भाजपा की ही सरकार बनने जा रही है।

मीडिया से बात करते हुए बदायूं लोकसभा सीट से भाजपा सांसद संघमित्रा मौर्य ने कहा कि समाजवादी पार्टी (सपा) टक्कर में जरूर रहेगी, मगर यूपी में सरकार भाजपा की ही बनेगी। उन्होंने आगे कहा कि वैसे यह जनता तय करेगी। जनता जिसको उचित समझेगी उसे अपना वोट देगी और उसको राज्य में सरकार बनाने का निमंत्रण भी मिलेगा। साथ ही उन्होंने कहा कि अगर पार्टी मुझे पिता और भाई के खिलाफ चुनाव प्रचार करने के लिए कहेगी, तो मैं निश्चित रूप से जाऊंगी और अगर मुझे नहीं करना होगा तो इंकार कर दूंगी।

इस दौरान उन्होंने अपने पिता द्वारा दिए गए बयान कि भाजपा 45 पर सिमट जाएगी पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा है कि उनका यह दावा इसलिए है क्योंकि उन्होंने हमेशा दलितों, पिछड़ों और शोषितों के लिए राजनीति की है। धरातल पर काम करने के कारण ही उनके साथ जनाधार है और वे जहां जाते हैं वहां उनका जनाधार उनके साथ चल पड़ता है। 

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -