इंटरनेट पर गुप्त रोग की दवा खोज रहा था युवक, एक गलती पड़ गई भारी

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में एक युवा को सोशल मीडिया साइट्स पर गुप्त रोग के उपचार के लिए दवाई खोजना भरी पड़ गया. जालसाजों ने उस शख्स से एक लाख रुपये ऐंठ लिए. पीड़ित की शिकायत पर बीकेटी पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है. वहीं साइबर क्राइम सेल केस की जांच कर रही है. मामला सामने आने के बाद युवक के पैरों तले जमीन खिसक गई. बता दें कि लखनऊ में ATM कार्ड की क्लोनिंग कर रुपये उड़ाने की वारदातें बढ़ गई है.

जानकारी के अनुसार, बख्शी का तालाब इलाके में रहने वाला एक युवक कुछ गुप्त बीमारी से कई महीने से परेशान था. युवक ने इंटरनेट पर गुप्त रोग की दवा के लिए विशेषज्ञ की जानकारी जुटानी आरंभ की. इस बीच युवक को कस्टमर केयर का एक नंबर मिला. उसने फोन कर अपनी परेशानी बताई. फोन रिसीव करने वाले ने बताया कि वह उसका उपचार कर देगा और 100 फीसद फायदा मिलेगा. फायदा न होने पर पैसे वापस कर दिए जाएंगे. वहीं, कस्टमर केयर से बातचीत के बाद युवक राजी हो गया.

फोन उठाने करने वाले व्यक्ति ने एक खाते में 4999 रुपये दवाई की कीमत मांगी. इसके बाद दो दिन के अंदर दवा डिलीवर करने के लिए कहा. चार दिन तक दवा न पहुंचने पर युवक ने दोबारा उस नंबर पर कॉल किया. फोन रिसीव करने वाले ने युवक को झांसे में लेकर अकाउंट की जानकारी ली और एक लिंक भेजा. उसके बाद OTP पूछकर कई बार में खाते से 95 हजार रुपये गायब कर दिए. मैसेज देखकर युवक की हालत खराब हो गई. दोबारा जब युवक ने उस नंबर पर कॉल किया तो स्विच आफ मिला. युवक ने थाने में शिकायत देकर केस दर्ज कराया. फिलहाल साइबर सेल मामले की छानबीन में जुटी है.

इलाज के नाम पर मौलवी ने महिला को गर्म चिमटे से जलाया, की अश्लील हरकत, FIR दर्ज

पहले प्यार के जाल में फंसाया फिर बनाया अश्लील वीडियो, डिलीट करने के बहाने बुलाया और...

बदमाशों का आतंक! खुलेआम कलेक्शन एजेंट से लुटे 18 लाख, जाँच में जुटी पुलिस

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -