मदरसे में अवैध रूप से रह रहे थे 4 संदिग्ध, 3 शिक्षकों सहित सभी गिरफ्तार

Jul 29 2019 03:47 PM
मदरसे में अवैध रूप से रह रहे थे 4 संदिग्ध, 3 शिक्षकों सहित सभी गिरफ्तार

शामली: उत्तर प्रदेश के शामली जिले के जलालाबाद से 4 संदिग्धों को गिरफ्तार किया गया है. बताया जा रहा है कि ये सभी नागरिक म्यांमार के मूल निवासी हैं और यहां अवैध रूप से रह रहे थे. इन पर आरोप है कि इन्हें यहां के एक मदरसे ने जगह दे रखी थी. इसी आरोप में मदरसे के तीन शिक्षकों को भी गिरफ्तार किया गया है.

बताया जा रहा है कि गिरफ्तार किए गए चारों विदेशी नागरिक म्यांमार के रहने वाले हैं और इनके पास से संदिग्ध वीजा और पासपोर्ट बरामद हुए हैं. पुलिस की मानें तो ये सभी विदेशी नागरिक कई वर्षों से शामली के मदरसों में पढ़ा रहे थे. फिलहाल प्रकरण की जांच की जा रही है. शामली एसपी अजय कुमार ने बताया है कि बगैर वैध वीजा के चार लोग देश में रह रहे थे और उन्होंने पासपोर्ट और आधार कार्ड जैसे फर्जी भारतीय कागज़ात हासिल कर लिए थे. उन्होंने कहा कि चार विदेशी रिजवान, नौमान, फुरकान और अब्दुल माजिद गत दो वर्षों से देश में अवैध तरीके से रह रहे थे और खुफिया सूचना के आधार पर सोमवार को उन्हें हिरासत में लिया गया है. 

शामली पुलिस प्रमुख ने बताया है कि मदरसे के तीन शिक्षक कारी अशरफ हुसैन, हनीफुल्ला और वसीफ को चार लोगों को अवैध तरीके से आश्रय देने के मामले में हिरासत में लिया गया है. पुलिस ने बताया है कि सात लोगों के खिलाफ ‘द फॉरेनर्स एक्ट’ और भारतीय दंड संहिता की संबंधित धाराओं के तहत केस दर्ज किया गया है और उनसे पूछताछ की जा रही है.

बाघों के मामले में अव्वल है मध्य प्रदेश, पीएम मोदी ने जारी किए आंकड़े

बांग्लादेश टीम के इस पूर्व दिग्गज कप्तान का हुआ देहांत

टाइगर डे पर बोले पीएम मोदी, 2022 तक बाघों की संख्या दोगुनी करने का था लक्ष्य, हमने पहले ही पूरा किया