'4 माह की बेटी को सास ने पटककर मार डाला..', बिलखती रही फौजिया, लेकिन नहीं माने ससुराल वाले

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मेरठ में फौजिया नामक एक मुस्लिम महिला ने बताया कि उसकी सास ने धमकी दी थी कि यदि उसने बेटी पैदा की तो वह उसे मार डालेगी। पीड़ित महिला के मुताबिक, जन्म के वक़्त वह अपनी बेटी को बचाने में सफल रही, मगर 4 माह बाद उसकी सास ने बेटी का क़त्ल कर दिया। मेरठ के लिसाड़ीगेट की निवासी फौजिया ने बताया है कि उसकी निकाह के एक महीने बाद ससुराल में उसकी सास ने स्पष्ट कह दिया था उसे लड़का ही चाहिए। फौजिया के मुतबिक, 'सास कहती थी कि यदि भूल से भी लड़की पैदा की तो समझ लेना। उसे भी मार डालूंगी और तुझे भी नहीं छोड़ूँगी। जिस दिन तूने बेटी पैदा कर दी, उसी दिन से घर से तेरा दाना-पानी खत्म।'

फौजिया का कहना है कि जन्म के बाद तो उसने किसी तरह अपनी बेटी को बचा लिया, मगर चार माह बाद 14 जून 2022 को उसकी सास ने अपनी पोती को जमीन पर पटक कर मार डाला। फौजिया का कहना है कि उसकी सास निकाह के 7वें दिन से ही दहेज के लिए उसे प्रताड़ित करने लगी थी। उस दिन भी लड़ाई दहेज के लिए ही शुरू हुई थी। इसी बीच सास आई और बच्ची को पटक कर मौत के घाट उतार दिया। फौजिया ने कहा कि, 'मेरी बद्दुआ है कि अल्लाह इस खानदान में कभी चिराग नहीं जलाएगा।'

मीडिया से बात करते हुए फौजिया ने बताया है कि, '14 जून को हर दिन की तरह सास और शौहर मुझे दहेज के लिए ताने मार रहे थे। इसके बाद शौहर मुझे पीटने लगा। मैंने भी कह दिया कि दहेज में कार कहाँ से लाऊँ। मेरे पिता के पास इतने पैसे नहीं हैं कि वे तुम्हें कार दें? अभी बेटी के होने पर 2 लाख का सामान और 2 लाख नगद समेत कुल 4 लाख रुपए दिए थे।' फौजिया आगे कहती हैं, 'इसी बात पर शौहर गुस्सा हो गया और मुझे पीटने लगा। कहा, मुँह चलाती है और गाली देने लगा। इसी दौरान सास भी कमरे में आ गई। उन्होंने बच्ची को बिस्तर से उठाकर जमीन पर पटक दिया। बच्ची वहीं खत्म हो गई।' फौजिया का कहना है कि उसकी सास लड़कियों से हद से ज्यादा नफरत करती है, क्योंकि वह मानती है कि लड़कियों को दहेज देना पड़ता है।

फौजिया के अनुसार, 'मेरे अम्मी-अब्बू ने दहेज में सबकुछ दिया। लेकिन सास इतनी लालची है कि इसकी भूख शांत नहीं होती। एक साल तक तो मैं किसी प्रकार ताने सुनकर काम चलाती रही। फिर कहने लगी कि मायके से पति के लिए बुलेट मंगा ले। शौहर को जब सास की बातें बताई तो वो भी अपनी माँ का समर्थन करने लगा। दोनों मिलकर मेरी पिटाई करते। रोज़ के झगड़ों से तंग आकर किसी तरह अम्मी-अब्बू ने बुलेट भी दे दी। उसके बाद वे कार माँगने लगे। अब्बू कार कहाँ से लाते?'

देवर की अश्लीलता को लेकर फौजिया कहती है कि, एक बार उसके देवर ने उसे गलत नज़र से देखा। जब उसने अपने देवर की शिकायत पति से की, तो वह उसे ही पिटने लगा। बाद में तीन तलाक देकर उसे घर से निकाल दिया। जिसके बाद से वह अपने मायके में हैं। अपनी बेटी की हत्या को लेकर फौजिया ने अपनी सास के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। हालाँकि, इस मामले में अभी उसकी सास को गिरफ्तार नहीं किया गया है।

अनाज देने के बहाने डीलर करता था अश्लील हरकत, बदला लेने के लिए महिलाओं ने उठाया ये खौफनाक कदम

पुलिस की वर्दी पहनकर लोगों पर धौंस जमाता था सुहैब, जब सामने आई असली UP पुलिस तो...

नाज़ायज़ संबंधों का शक करती थी पत्नी, पति ने उसी के दुपट्टे से गला घोंटकर मार डाला

 

Most Popular

- Sponsored Advert -