100 फ़ीट गहरे बोरवेल में गिर गया था 5 वर्षीय मासूम, 9 घंटे की मशक्कत के बाद मिली बड़ी कामयाबी

Apr 14 2019 06:22 PM
100 फ़ीट गहरे बोरवेल में गिर गया था 5 वर्षीय मासूम, 9 घंटे की मशक्कत के बाद मिली बड़ी कामयाबी

मथुरा: उत्तर प्रदेश के मथुरा जिले में एक बोरवेल में लगभग 100 फुट गहरे गड्ढे में गिरे 5 वर्षीय मासूम प्रवीण को निकालने में कड़ी मशक्‍कत के बाद आखिर NDRF और सेना की टीम को कामयाबी मिल गई. मासूम प्रवीण को रविवार सुबह-सुबह सुरक्षित बोरवेल से निकल लिया गया है. उसे बोरवेल से निकालने में 9 घंटे बाद कामयाबी मिली है.

मासूम प्रवीण शनिवार को उस वक़्त अचानक बोरवेल में गिर गया था, जब वह दोपहर लगभग 3 बजे अपने पिता के साथ बकरी चराते समय खेत पर गया था. मासूम के बोरवेल में गिरने से पूरे क्षेत्र में सनसनी फ़ैल गई थी. आनन-फानन में जिला प्रशासन को सूचित किया गया. जिसके बाद घटनास्थल पर उच्च अधिकारी पहुंच गए थे. इनमें उप जिलाधिकारी छाता रामदत्त राम और क्षेत्राधिकारी जगदीश काली रमन भी मौजूद थे. किन्तु बोरवेल में गिरे बच्‍चे को निकालने में पुलिस फायर ब्रिगेड के प्रयास नाकाम रहे थे. ऐसे में प्रशासन ने NDRF गाजियाबाद का सहयोग मांगा और मासूम बच्चे को बचाने के लिए कोशिशें तेज कर दी गई.

बचाव अभियान के लिए NDRF की टीम मथुरा पहुंची और टीम द्वारा बच्चे को ऑक्सीजन भी दी गई. NDRF की टीम ने कैमरे की सहायता से बच्चे के बारे में जानकारी लेने के बाद रस्सी में कपड़े की टोकरी बनाकर बोरवेल के अंदर पहुंचाई. कैमरे की सहायता से बच्चे को देखते हुए उससे बात की मगर जब, बच्चा NDRF की टीम की भाषा को नहीं समझ पाया तो उसकी मां ने अपनी भाषा में मासूम से बात की. बच्चे ने मां की बात को मानते हुए NDRF की टीम द्वारा डाली गई कपड़े की टोकरी में पैर फंसाकर बैठ गया. इसके बाद उसे सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया. 

खबरें और भी:-

विमानन मंत्री सुरेश प्रभु ने सचिव को दिये, जेट एयरवेज से संबंधित मुद्दों की समीक्षा करने के निर्देश

केंद्र में बनने वाली नई सरकार बजट में प्रत्यक्ष कर संग्रह लक्ष्य में कर सकती है कटौती

पाकिस्तान में लगातार बढ़ती जा रही है बदहाली, बाजार की हालत बेहद ख़राब