फर्जी कागज़ों पर बेचा मकान, ठगे 50 लाख, धोखाधड़ी का केस दर्ज

लखनऊ: यूपी की राजधानी लखनऊ के गोमतीनगर में स्थित एक मकान पर मालिकाना हक जताते हुए ठगों ने एक शख्स से 50 लाख में मकान का सौदा कर लिया। जालसाजों ने नकली दस्तावेज़ों के जरिए मकान की रजिस्ट्री तक कर दी। इसके बाद खरीदार मकान में शिफ्ट होने के लिए पहुंचा तो पड़ोसियों से मकान दूसरे व्यक्ति के नाम पर होने की जानकारी मिली। इसके बाद पीड़ित ने जालसाजों के खिलाफ केस दर्ज कराया है।

ऐशबाग नवाबगंज के रहने वाले सुधीर चंद्र मिश्रा के अनुसार, वह मकान खरीदने के लिए कई लोगों से संपर्क कर रहे थे। इस बीच उन्हें गोमतीनगर विनम्रखंड में मौजूद एक मकान के संबंध में जानकारी मिली। जांच करने पर पता चला कि यह मकान छोटा भरवारा के रहने वाले उमरावती कुशवाहा का है। उन्होंने महिला से संपर्क किया था। इस दौरान उमरावती का पति उमेश कुशवाहा, बेटा और बेटियां भी उपस्थित थीं। बातचीत के बाद मकान का सौदा 50 लाख रुपये में तय हुआ था। उमरावती का कहना था कि पूरे पैसे मिलने के बाद ही वह रजिस्ट्री करेगी।

ऐसे में सुधीर ने उमरावती और उमेश के बताए बैंक अकाउंट में 50 लाख रुपये ट्रांसफर कर दिए थे। अकाउंट में पैसे जमा होने के बाद आरोपियों ने नकली कागज़ों के जरिए रजिस्ट्री कर दी थी। सुधीर परिवार संग मकान में शिफ्ट होने की तैयारी कर रहे थे। इसलिए मकान में कुछ निर्माण आरंभ कराया था। इस दौरान ही उन्हें पड़ोसियों ने बताया कि यह मकान उमरावती का नहीं है। उनकी बात सुन कर पहले तो सुधीर को यकीन नहीं हुआ। पूछताछ करने पर पता चला कि उमरावती ने फर्जी कागज तैयार कर मकान बेचा है। इसके बाद वजीरगंज कोतवाली में सुधीर ने उमरावती, उसके पति उमेश, बेटे और दो बेटियों के खिलाफ अमानत में खयानत और धोखाधड़ी की धारा में FIR दर्ज कराई है। 

अभिषेक की हत्या कर लाश मंदिर के पास फेंकी, अफजल-रशीद सहित 5 गिरफ्तार

दिल्ली की महिला के साथ ऑटो ड्राइवर ने किया बलात्कार, सड़क पर छोड़कर हुआ फरार

महिला की हत्या के बाद उसी के बेडरूम में आरोपियों ने बनाए संबंध, वजह जानकर रह जाएंगे दंग

 

Most Popular

- Sponsored Advert -