जगद्गुरु परमहंस आचार्य को ताजमहल में नहीं करने दिया गया प्रवेश, भगवा वस्त्र और हाथ में ब्रह्मदंड थे कारण

आगरा: श्री राम की नगरी अयोध्या से आगरा आए जगद्गुरु परमहंसाचार्य को ताजमहल में प्रवेश नहीं करने दिया गया. बताया जा रहा है कि वे भगवा कपड़े पहने हुए थे और उनके हाथ में ब्रह्म दण्ड था. इस वजह से उन्हें ताजमहल में एंट्री नहीं दी गई. बताया जा रहा है कि परमहंसाचार्य के शिष्य के पास ताज महल में एंट्री करने का टिकट था. 

जगद्गुरु परमहंसाचार्य ने CISF जवानों को टिकट होने की बात भी बताई. मगर उन्हें अंदर जाने नहीं दिया गया. इसके बाद उनके टिकट वहीं अन्य पर्यटकों को देकर पैसे वापस लौटा दिए गए. इस घटना के बाद संत सभी लोगों को आशीर्वाद देकर वहां से वापस अयोध्या लौट आए. हालांकि, संतों के अपमान पर वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उनसे माफ़ी भी मांगी है. अब मामले में जिम्मेदार अधिकारी कैमरे के समक्ष आकर कुछ भी बोलने से बच रहे हैं. 
 
जगद्गुरु परमहंसाचार्य  इससे पहले उस समय चर्चा में आए थे, जब उन्होंने भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करने की मांग की थी. यही नहीं उन्होंने सरकार को अल्टीमेटम दिया था कि भारत सरकार यदि 2 अक्टूबर तक हिंदू राष्ट्र घोषित नहीं करती, तो वे जल समाधि ले लेंगे. हालांकि, जल समाधि लेने से पहले ही उन्हें पुलिस ने अरेस्ट कर लिया था. 

लोगों के घरों तक पहुंचेगी यूपी सरकार, सीएम योगी ने सभी मंत्रियों को दिया बड़ा टास्क

भाजपा ने प्रशांत किशोर को बताया सेल्समेन, कांग्रेस ज्वाइन न करने पर कसा तंज

अब 'समान नागरिक संहिता' के विरोध में उतरा मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड, आखिर क्यों समानता नहीं चाहता AIMPLB ?

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -