उत्तरप्रदेश: इंस्पेक्टर लक्ष्मी चौहान ने मेरठ कोर्ट में किया सरेंडर, 70 लाख के गबन का है आरोप

Nov 07 2019 05:52 PM
उत्तरप्रदेश: इंस्पेक्टर लक्ष्मी चौहान ने मेरठ कोर्ट में किया सरेंडर, 70 लाख के गबन का है आरोप

नई दिल्ली: बरामदगी की रकम में से 70 लाख रुपये हड़पने की आरोपी इंस्पेक्टर लक्ष्मी चौहान और एक सिपाही ने गुरुवार को मेरठ अदालत में आत्मसमर्पण कर दिया है. बता दें कि, इंस्पेक्टर लक्ष्मी चौहान ने उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में लिंक रोड थाने की इंचार्ज रहते हुए छह पुलिसकर्मियों के साथ लुटेरों से बरामद की गई एक करोड़ की राशि में से 70 लाख रुपये हजम कर लिए थे.

उच्चाधिकारियों को मामले की सूचना होते ही लक्ष्मी चौहान और अन्य आरोपी भाग निकले थे. इसके बाद से ही गाजियाबाद पुलिस आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास कर रही थी. गुरुवार को गाजियाबाद पुलिस ने आरोपियों पर 25-25 हजार रुपये के इनाम का भी ऐलान किया था. मामले के बाद से ही इंस्पेक्टर लक्ष्मी चौहान और उनका साथ देने वाले छह सिपाही फरार थे. गाजियाबाद पुलिस ने आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए सभी कोशिशें की, लेकिन उनके हाथ कुछ नहीं लगा.

इनामिया घोषित होने के कुछ ही घंटों में लक्ष्मी चौहान और एक अन्य आरोपी सिपाही ने पुलिस की आँखों में धुल झोंककर मेरठ के एंटी करप्शन कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया. आपको बता दें कि, लक्ष्मी चौहान ने उच्च न्यायालय में अग्रिम जमानत के लिए अर्जी दाखिल की थी, जो खारिज कर दी गई थी.

3000 मी स्टीपलचेज में महेश्वरी ने बनाया राष्ट्रीय जूनियर रिकॉर्ड

10 करोड़ रुपए से बना है ये गोल्डन टॉयलेट, जड़े गए हैं 40 हज़ार से अधिक हीरे

जब नेशनल पार्क में चलती गाड़ी पर बैठ गया हाथ, देखकर उड़े सबके होश