कोटा स्टूडेंट्स की बस के लिए गहलोत सरकार ने मांगे थे 36 लाख रुपए, योगी सरकार ने 19 लाख चुकाए

लखनऊ: राजस्थान के कोटा शहर में देशव्यापी लॉकडाउन की वजह से उत्तर प्रदेश के हजारों छात्र फंसे हुए थे. राजस्थान राज्य परिवहन निगम की बसों से विद्यार्थियों को झांसी और आगरा पहुंचाया गया था. इसके बाद गहलोत सरकार ने यूपी सरकार को 36,36,664 रुपये का बिल भेजा था. अब यूपी की योगी सरकार ने इस बिल में से 19 लाख 76 हजार रुपये चुका दिए हैं.

उल्लेखनीय है कि योगी सरकार ने अपने छात्रों के लिए नि:शुल्क बस का बंदोबस्त किया था. उत्तर प्रदेश से कोटा जाकर स्टूडेंट्स को लाने वाले किसी बस का कोई किराया नहीं लगा था, मगर इसके बाद भी राजस्थान सरकार ने उत्तर प्रदेश सरकार को 36,36,664 रुपये का बिल भेजा था, जिसमें से 19 लाख 76 हजार की राशी अभी तक राजस्थान सरकार को भुगतान की जा चुकी है.

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के संक्रमण को कम करने के लिए पूरे देश में 25 मार्च से लॉकडाउन लागू है. ऐसी स्थिति में एजुकेशन हब बन चुके कोटा में हजारों कोचिंग स्टूडेंट फंस गए थे. इसमें सबसे ज्यादा उत्तर प्रदेश के लगभग साढ़े सात हजार से अधिक स्टूडेंट थे, जिन्हें सरकार ने राजस्थान की गहलोत सरकार के सहयोग से वापस अपने गृहराज्य लाया गया था.

मोदी सरकार के राहत पैकेज पर RBI निदेशक ने उठाए सवाल, कही ये बात

इमरान खान का बेतुका बयान, भारत कभी भी कर सकता है पाकिस्तान पर हमला

क्या वाकई शराब की होम डिलीवरी होने वाली है शुरू ?

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -