आगरा में उपद्रवियों ने 'भारत माता' की तस्वीर फाड़ी, RSS के दफ्तर पर 60-70 लोगों की भीड़ ने किया हमला

आगरा: उत्तर प्रदेश के आगरा में समुदाय विशेष के लोगों ने शराब पीकर बवाल करने से रोकने पर राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) के स्वयंसेवकों के साथ मारपीट की, जिसमें 6 लोग जख्मी हो गए हैं। इनमें से 2 लोगों को गंभीर चोटें लगी हैं। घटना के बाद संघ और उससे संबंधित संगठनों के लोगों ने थाने का घेराव करते हुए अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दी है। मामला आगरा के थाना लोहामंडी में आलमगंज चौकी के अंतर्गत संघ कार्यालय का बताया जा रहा है।

 

भाजपा नेताओं के मुताबिक, संघ के दफ्तर के सामने ही राधा कृष्ण का मंदिर भी मौजूद है। इसी मंदिर के सामने समुदाय विशेष के लोग इकठ्ठा होकर शराब पीते थे और हंगामा करते थे। प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, मंदिर के सामने शराब और मांस का सेवन करते हुए देखकर RSS के कार्यकर्ताओं ने उन्हें रोका। इस पर बदमाश वापस वापस तो चले गए, लेकिन वे 50-70 लोगों के साथ लौटे और RSS कार्यालय पर हमला कर दिया। इस दौरान भीड़ ने जमकर पत्थरबाज़ी भी की। यही नहीं, उपद्रवियों ने दफ्तर में रखी भारत माता की तस्वीर को भी तोड़ दी। इस दौरान काफी देर तक भीड़ कार्यालय में तोड़-फोड़ करती रही। इस हमले में वहाँ मौजूद विकास गुप्ता और शिवम कुमार गंभीर रूप से जख्मी हो गए। मामले की सूचना मिलते ही स्थानीय MLA समेत तमाम भाजपा नेताओं ने पहुँचकर थाने का घेराव किया।

वहीं, आगरा दक्षिण से MLA योगेंद्र उपाध्याय का इल्जाम है कि कार्यकर्ताओं को उपद्रवी उठाकर ले गए और उनके साथ मारपीट की। आरोप है कि संघ के कार्यकर्ताओं को जान मारने की धमकी भी दी गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए SSP सुधीर कुमार सिंह मौके पर पहुँचे और आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई का आश्वासन दिया। इस मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ शिकायत दर्ज कर ली गई है। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, SSP ने बताया कि संघ कार्यकर्ताओं पर हमला मामले में 40-50 अज्ञात लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट और राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने यह भी बताया कि इस मामले में 10 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

कुड्डालोर में राशन के चावल चोरी करने का मामला, छह लोग गिरफ्तार

कर्नाटक: नाबालिगों ने लड़की से किया सामूहिक बलात्कार

गैंग रैप के इल्जाम निकला झूठा तो कोर्ट में अपने बयानों में फसी महिला

 

Most Popular

- Sponsored Advert -