पत्नी को बहला-फुसलाकर ले गए बदमाश, कोमा में चला गया पति, पुलिस ने भी नहीं दिया साथ फिर..

लखनऊ: यूपी के बदायूं के निवासी व्‍यापारी की पत्‍नी को कुछ लोग बहला फुसलाकर ले गए थे, इसके बाद जब उसने पुलिस में इस संबंध में शिकायत की तो उन्‍होंने भी कुछ नहीं किया. वहीं आरोपी व्‍यापारी को लगातार धमकी दे रहे थे. परेशान होकर व्‍यापारी कोमा में चला गया और उसकी जान चली गई. राज्य के बदायूं के उसावां में एक व्‍यापारी की उपचार के दौरान मौत का मामला प्रकाश में आया है. मृतक के परिवार वालों ने आरोप लगाया कि उनका मानसिक उत्पीड़न किया जा रहा था.

परिवार वालों ने व्‍यापारी की मौत के बाद जमकर बवाल किया. यहां तक शव का पोस्‍टमार्टम भी नहीं होने दिया गया. जब पुलिस की ओर से ये आश्‍वासन दिया गया कि आरोपियों पर कार्रवाई होगी, तब जाकर परिवार वाले मानें. ये पूरा मामला उसावां थाना के वार्ड नं 5 का है. यहां के निवासी व्यापारी की पत्नी को कस्‍बे के ही कुछ लोग तक़रीबन 3 माह पहले बहला फुसलाकर भगा ले गए थे. आरोप है कि व्‍यापारी रामानंद को ये धमकाते थे और उसे प्रताड़ित करते थे. व्‍यापारी परिजनों के साथ कई बार थाने गया, किन्तु कोई कार्रवाई नहीं हुई. मृतक व्यापारी की बेटी ने पुलिस पर यह आरोप लगाया है कि थानाध्यक्ष ने 15 हजार रुपये भी रिश्वत में लिए, फिर भी उसके पिता की शिकायत नहीं लिखी गई.  

व्यापारी मानसिक रूप से परेशान हो गया था, उसकी मानसिक स्थिति खराब हो गई. बाद में वह कोमा में चला गया और उपचार के दौरान ही दिल्ली में उसकी मौत हो गई. इस पूरी घटना के लिए परिजनों ने थाने के SO और पुलिस कर्मियों को जिम्मेदार बताया है. आक्रोशित परिजनों को समझाने पहुचे SP सिटी प्रवीण सिंह चौहान ने बताया कि व्यापारी की दिल्ली के अस्पताल में उपचार के दौरान मौत हो गई है. परिजनों की शिकायत पर केस दर्ज कर लिया गया है. आरोप सही पाए गए तो SO पर कार्रवाई होगी. 

चुनाव के दौरान लोगों को आकर्षित करने के लिए बांटी थी शराब, 5 की मौत

अंडे खाने को लेकर हुआ विवाद, कुछ देर बाद हुई मौत

नकली एंटीक डीलर मामले में केरल पुलिस के शीर्ष आईजी निलंबित

Most Popular

- Sponsored Advert -